Home » छत्तीसगढ़ » आयुष्मान भारत योजना से 5 लाख रुपए तक का मरीजों को मिलेगा निशुल्क इलाज

आयुष्मान भारत योजना से 5 लाख रुपए तक का मरीजों को मिलेगा निशुल्क इलाज

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2018-06-15 11:41:45.0
Share Post

रायपुर, (छत्तीसगढ़, ब्यूरो)। आयुष्मान भारत नेशनल हेल्थ पोटेक्शन परियोजना द्वारा नई दिल्ली में स्वास्थ्य मंत्रियों की हाल ही में हुई एक दिवसीय कन्क्लेव में आयुष्मान योजना पेंद सहित पूरे देश के राज्यों में लागू करने को लेकर गंभीर मंत्रणा हुई, इस अवसर पर छग शासन के स्वास्थ्य विभाग एवं पेंदीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ हुये अनुबंध के अनुसार 15 अगस्त से योजना पूरे पदेश में लागू होगी। सम्मेलन में पेंदीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नडडा ने बताया कि इस योजना के तहत मरीज को 5 लाख रू तक का इलाज निशुल्क मुहैया कराया जाएगा। पेंदीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की मुख्य कार्यपालन अधिकारी इंदु भूषण ने पदेश की स्वास्थ्य सचिव श्रीमती ऋचा शर्मा से योजना के संबंध में विस्तार से चर्चा कर अनुबंध पर हस्ताक्षर किये। सम्मेलन के दौरान छग की स्वास्थ्य संचालक श्रीमती रानू साहू ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुये बाद में जानकारी देते हुये बताया कि इस योजना का लाभ पदेश के 40 लाख परिवारें को हर साल 5 लाख रू के निशुल्क स्वास्थ्य उपचार के रू में पाप्त होगा। योजना का शुभारंभ 15 अगस्त से होगा। आयुष्मान भारत योजना के हितग्राही की पहचान करने वाले आनलाइन बेनिफीट साफ्वेयर को पेंद सरकार द्वारा बनाया गया है। इसका सम्मेलन में ही पस्तुतिकरण कर अन्य राज्यों से आये स्वास्थ्य मंत्रियों एवं अधिकारियों को जानकारी दी गई। भारत सरकार द्वारा बजट में हेल्थ स्कीम लाने की घोषणा की गई थी। बजट में किये गये पावधान के अनुसार आयुष्मान भारत योजना का लाभ देश के 10 करोड़ गरीब परिवारों को मिलेगा। योजना को मंजूरी दे दी गई है। योजना का लाभ शहरी क्षेत्र के परिवारों का चयन सामाजिक आर्थिक एवं जातीय जनगणना 2011 के तहत कचरा बीनने वाले, भिखारी, घरेलू नौकर, फेरीवाले, मोची, ठेलावाले , निमार्णी श्रमिक, प्लम्बर, रेजा कुली, पेंटर, वेल्डर,स्वीपर, सफाई कर्मी, माली, हथकरघा, हस्तशिल्प, दर्जी, ट्रांसपोर्ट वर्पर, ड्राइवर, कन्डक्टर, हेल्पर , रिक्शा चालक/खींचने वाला एवं दुकान में काम करने वाले नौकर सहायक चपरासी वेटर बिजली मेकनिक धोबी तथा चौकीदार वर्गों के तहत काम करने वाले कर्मियों को उपरोक्प योजना का लाभ दिया जाएगा।

Share it
Top