Home » वाणिज्य » व्यापार और निवेश समझौते पर खुले विचार से बातचीत करता है भारत: गोयल

व्यापार और निवेश समझौते पर खुले विचार से बातचीत करता है भारत: गोयल

👤 mukesh | Updated on:21 Feb 2024 8:43 PM GMT

व्यापार और निवेश समझौते पर खुले विचार से बातचीत करता है भारत: गोयल

Share Post

नई दिल्ली (New Delhi)। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री (Union Commerce and Industry Minister) पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने बुधवार को कहा कि भारत (India) व्यापार एवं निवेश समझौतों (trade and investment agreements) पर निष्पक्षता और खुले विचार (Fairness and openness) से बातचीत करता है। इसके साथ ही लोगों के हितों को भी ध्यान में रखता है।

गोयल ने राजधानी नई दिल्ली में आयोजित दूसरे ‘सीआईआई इंडिया-यूरोप कॉन्क्लेव’ को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि जो देश भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) और निवेश समझौते पर बातचीत कर रहे हैं, उन्हें यह ध्यान में रखना चाहिए कि भारत उन्हें मांग तथा व्यापार के अवसर मामले में बड़ा बाजार प्रदान करता है।

सीआईआई इंडिया यूरोप बिजनेस एंड सस्टेनेबिलिटी कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए गोयल ने कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। उन्होंने बताया कि कैसे भारत और यूरोप हमारी मजबूत साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए विभिन्न विकास मोर्चों पर सहयोग कर सकते हैं, जिससे हमारे लोगों के लिए समृद्ध भविष्य बन सके। वाणिज्य मंत्री ने कहा कि युवा आबादी, वस्तुओं व सेवाओं की मांग दुनिया भर में व्यवसायों के लिए बड़े अवसर उत्पन्न करती है।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल की ये टिप्पणियां बेहद महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि ब्रिटेन, ओमान और यूरोपीय संघ जैसे देशों के साथ मुक्त व्यापार जैसे समझौतों पर भारत बातचीत कर रहा है।

Share it
Top