Home » वाणिज्य » सेल को रेलवे की बढ़ती मांग को पूरा कर लेने की उम्मीद

सेल को रेलवे की बढ़ती मांग को पूरा कर लेने की उम्मीद

👤 Veer Arjun Desk | Updated on:2018-06-24 15:32:35.0

सेल को रेलवे की बढ़ती मांग को पूरा कर लेने की उम्मीद

Share Post

भिलाई, (भाषा)। सार्वजनिक क्षेत्र की इस्पात कंपनी सेल को उम्मीद है कि वह भारतीय रेलवे की बढ़ती रेल की मांग को चालू वित्त वर्ष में पूरा कर पाएगी। बीते वित्त वर्ष में सेल रेलवे की जरूरत को पूरा नहीं कर पाई थी। सेल के एक वरिष्" अधिकारी ने कहा कि इस साल कंपनी रेलवे को 12 लाख टन रेल ापटरा की आपूर्ति करेगी। यह घटनाक्रम इस दृष्टि से महत्वपूर्ण है कि सरकार ने पिछले साल रेलवे की मांग को पूरा नहीं कर पाने के लिए सेल की खिंचाई की थी। साथ ही कंपनी को अपनी भिलाई की नई रेल मिल का उत्पादन बढ़ाने को कहा था। भिलाई इस्पात संयंत्र के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम रवि ने पीटीआई भाषा से साक्षात्कार में कहा , पिछले कुछ साल से हम रेलवे को उनकी जरूरत के हिसाब से सालाना छह से सात लाख टन रेल की आपूर्ति कर रहे हैं। वर्ष 2016-17 में मांग में थोड़ी वृद्धि हुई। जरूरत के हिसाब से हम 6.6 लाख टन के स्तर पर पहुंचे। 2017-18 में यह 8.8 लाख टन सालाना पर पहुंच गई। लेकिन बीते वित्त वर्ष में मांग नौ लाख टन की रही। सेल का भिलाई इस्पात कारखाना देश का प्रमुख रेल उत्पादक संयंत्र है। यहां उत्पादित रेल की आपूर्ति भारतीय रेलवे को की जाती है।

रवि ने कहा , भारतीय रेलवे की मांग दोगुना हो गई है। ऐसी स्थिति में हम बीते वित्त वर्ष में उनकी जरूरत को पूरा नहीं कर पाए। सेल - बीएसपी की नई यूनिवर्सल रेल मिल से देश की सबसे बड़ी इस्पात उत्पादक रेल कारखाने की उत्पादन क्षमता बढ़कर 20 लाख टन सालाना हो गई है। रवि ने कहा , हमने नई यूनिवर्सल रेल मिल का रास्ता चुना है। पहले हमारी क्षमता सिर्फ सात लाख टन की थी। अब हमने 12 लाख टन की नई यूनिवर्सल रेल मिल जोड़ी है।

दोनों की क्षमता मिलाकर 20 लाख टन की हो गई है सार्वजनिक क्षेत्र की यह कंपनी पांच दशक से अधिक से रेलवे को रेल की आपूर्ति कर रही है।

Share it
Top