Home » वाणिज्य » ईपीएफओ ने दिसंबर में नेट 15.62 लाख सदस्य जोड़े

ईपीएफओ ने दिसंबर में नेट 15.62 लाख सदस्य जोड़े

👤 mukesh | Updated on:20 Feb 2024 8:32 PM GMT

ईपीएफओ ने दिसंबर में नेट 15.62 लाख सदस्य जोड़े

Share Post

-दिसंबर में नौकरी देने के मामले में पांच राज्य रहे अव्वल

नई दिल्ली (New Delhi)। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) (Employees Provident Fund Organization (EPFO)) ने दिसंबर में नेट (शुद्ध रूप से) 15.62 लाख सदस्य जोड़े (Added 15.62 lakh members) हैं। सेवानिवृति कोष का प्रबंधन करने वाले निकाय ईपीएफओ ने यह जानकारी दी है।

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने मंगलवार को जारी एक बयान में बताया कि ईपीएफओ ने दिसंबर में शुद्ध रूप से 15.62 लाख सदस्य जोड़े हैं। यह पिछले तीन महीनों में सबसे अधिक है। ईपीएफओ की ओर से जारी ताजा पेरोल आंकड़ों के मुताबिक नवंबर की तुलना में दिसंबर, 2023 के दौरान सदस्यों की संख्या में 11.97 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है।

मंत्रालय के मुताबिक कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के अस्थायी पेरोल आंकड़ों के मुताबिक निकाय ने दिसंबर में शुद्ध रूप से 15.62 लाख सदस्य जोड़े हैं। ये दिसंबर 2022 की तुलना में 4.62 फीसदी की वृद्धि है। आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर महीने के दौरान करीब 8.41 लाख नए सदस्य नामांकित हुए हैं।

पेरोल आंकड़ों के मुताबिक इस दौरान जोड़े गए कुल नए सदस्यों में 18-25 आयु वर्ग की हिस्सेदारी 57.18 फीसदी है। इससे यह पता चलता है कि देश के संगठित क्षेत्र के कार्यबल में शामिल होने वाले ज्यादातर सदस्य युवा हैं। इसके अलावा दिसंबर में ईपीएफओ की योजनाओं से बाहर चले गए करीब 12.02 लाख सदस्य वापस आए हैं।

श्रम मंत्रालय के मुताबिक निकाय में जोड़े गए कुल 8.41 लाख नए सदस्यों में करीब 2.09 लाख महिला सदस्य हैं, जो पहली बार ईपीएफओ में शामिल हुई हैं। यह संख्या ये नवंबर 2023 की तुलना में 3.54 फीसदी की वृद्धि को दर्शाता है। आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, कर्नाटक और हरियाणा से सबसे अधिक सदस्य दिसंबर में शामिल हुए।

Share it
Top