Home » वाणिज्य » मार्च में जीएसटी राजस्व संग्रह रिकॉर्ड 1.78 लाख करोड़ रुपये रहा

मार्च में जीएसटी राजस्व संग्रह रिकॉर्ड 1.78 लाख करोड़ रुपये रहा

👤 mukesh | Updated on:1 April 2024 7:26 PM GMT

मार्च में जीएसटी राजस्व संग्रह रिकॉर्ड 1.78 लाख करोड़ रुपये रहा

Share Post

- सालाना आधार पर जीएसटी संग्रह में 11.5 फीसदी का उछाल दिखा

नई दिल्ली (New Delhi)। मार्च (March) में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व संग्रह (Goods and Services Tax (GST) revenue collection) 1.78 लाख करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर जीएसटी संग्रह में 11.5 फीसदी का उछाल दिखा है, जबकि मासिक आधार पर जीएसटी कलेक्शन (GST collection on monthly basis) का यह दूसरा सबसे उच्चतम स्तर है।

वित्त मंत्रालय ने सोमवार को जारी एक बयान में बताया कि मार्च में रिफंड के बाद शुद्ध जीएसटी राजस्व संग्रह 1.65 लाख करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में 18.4 फीसदी अधिक है। घरेलू लेन-देन बढ़ने की वजह से मार्च में जीएसटी राजस्व संग्रह बढ़ा है। ये अबतक का दूसरा उच्चतम मासिक जीएसटी राजस्व संग्रह है। इससे पहले सर्वाधिक जीएसटी राजस्व संग्रह अप्रैल, 2023 में 1.87 लाख करोड़ रुपये रहा था। मार्च में जीएसटी संग्रह बढ़ने के साथ ही समूचे वित्त वर्ष 2023-24 में कुल जीएसटी राजस्व संग्रह 20.14 लाख करोड़ रुपये रहा, जो वित्त वर्ष 2022-23 की तुलना में 11.7 फीसदी अधिक है।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक मार्च 2024 के 1.78 लाख करोड़ रुपये के जीएसटी कलेक्शन में सीजीएसटी 34,532 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 43,746 करोड़ रुपये, आईजीएसटी 87,947 करोड़ रुपये (माल के आयात पर संग्रह किए गए 40,322 करोड़ रुपये सहित) और सेस सेस 12,259 करोड़ रुपये रहा है, जिसमें माल के आयात से मिले 996 करोड़ रुपये शामिल हैं।

Share it
Top