Home » वाणिज्य » सेंसेक्स 267 अंक मजबूत, बैंक वाहन कंपनियों के शेयर चमके

सेंसेक्स 267 अंक मजबूत, बैंक वाहन कंपनियों के शेयर चमके

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2018-07-04 18:10:27.0

सेंसेक्स 267 अंक मजबूत, बैंक वाहन कंपनियों के शेयर चमके

Share Post

मुंबई, (भाषा)। सरकार के अधिकतर खरीफ फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने के फैसले के बाद कारोबार के अंतिम समय में की गयी तेज लिवाली से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स करीब 267 अंक की बढ़त के साथ दो सप्ताह के उच्च स्तर 35,645.40 अंक पर बंद हुआ। बैंक तथा वाहन कंपनियों के शेयरों में तेजी देखी गयी। व्यापार युद्ध तथा वृहत आर्थिक परिस्थितियों को लेकर चिंता के काण वैश्व्कि बाजारों में गिरावट के विपरीत भारतीय बाजार में सुधार हुआ। कारोबार के दौरान पूरे समय बाजार सीमित दायरे में रहा लेकिन अंत में कुछ क्षेत्रों के शेयरों की लिवाली से सेंसेक्स मजबूत हुआ।

घरेलू संस्थागत निवेशक लिवाल बने हुए है तथा जून के परचेजिंग मैनेजर्स सूचकांक (पीएमआई) में घरेलू विनिर्माण और सेवा क्षेत्र में तेज सुधार की रपट से भी बाजार को उत्साह मिला। जून में नए आर्डर मिलने से सेवा क्षेत्र में एक साल की सबसे तीव्र वृद्धि होने का संकेत है। सरकार ने 14 खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि कर किसानों को बड़ी राहत दी। इससे सरकारी खजाने पर 15,000 करोड़ रुपये से अधिक का बोझ पड़ेगा। तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स मजबूती के साथ 35,385.52 अंक पर खुला और एक समय दिन के उच्चतम स्तर 35,667.31 अंक तक चला गया। अंत में यह 266.80 अंक या 0.75 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 35,645.40 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले, 22 जून 2018 को सेंसेक्स 35,689.60 अंक पर गया था। कल सेंसेक्स में 114.19 अंक की की तेजी आयी थी। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 70 अंक या 0.65 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,769.90 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 10,777.15 से 10,677.75 अंक के दायरे में रहा।जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, हल्की शुरूआत के बाद बाजार में तेजी आयी जिसका कारण वाहनों की बिक्री के बेहतर आंकड़े तथा सरकार की एमएसपी में वृद्धि की घोषणा है। न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ने से गांवों में आय बढ़ेगी। साथ ही मानसून बेहतर रहने से खपत संबंधित शेयरों लिये मांग बढ़ सकती है। इस बीच सरकार के आज धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 200 रुपये द्रिंटल तक की बढ़ोतरी किए जाने से कोहिनूर फूड्स, एलटी फूड्स, चमनलाल सेतिया एक्सपोर्ट तथा केआरबीएल जैसी कृषि से जुड़ी कंपनियों के शेयरों में तेजी आयी।

न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी किए जाने से कोहिनूर फूड्स, एलटी फूड्स, चमनलाल सेतिया एक्सपोर्ट तथा केआरबीएल जैसी कृषि से जुड़ी कंपनियों के शेयरों में की तेजी आयी। साथ ही ज्यादातर उर्वरक शेयरों में तेजी रही।

इसमें शिवा ग्लोबल एग्रो इंडस्ट्रीज, कोरोमंडल एग्रो प्रोडक्ट्स, फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स ट्रावणकोर तथा गुजरात नर्मदा वैली फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स शामिल हैं। सेंसेक्स के शेयरों में बजाज आटो सर्वाधिक लाभ में रहा। कंपनी का शेयर 3.95 प्रतिशत मजबूत हुआ। उसके बाद मारुति सुजकी (2.69 प्रतिशत) का स्थान रहा। लाभ में रहने अन्य प्रमुख शेयरों में एचडीएफसी लि. (2.09 प्रतिशत), एचयूएल (2.03 प्रतिशत), आरआईएल (1.90 प्रतिशत), एचडीएफसी बैंक (1.57 प्रतिशत), इंडसइंड बैंक (1.33 प्रतिशत) तथा कोल इंडिया (1.21 प्रतिशत) शामिल हैं।

वहीं दूसरी तरफ जिन प्रमुख शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें एनटीपीसी (1.64 प्रतिशत), वेदांता (1.21 प्रतिशत), ओएनजीसी (1.20 प्रतिशत), भारती एयरटेल (1.01 प्रतिशत) तथा टाटा मोटर्स (0.93 प्रतिशत) शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग का हैंग सेंग 1.06 प्रतिशत, शंघाई कंपोजिट सूचकांक 1.(प्रतिशत तथा जापान का निक्केई 0.31 प्रतिशत नीचे आये। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। पेरिस सीएसी 0.10 प्रतिशत, फैंकफर्ट डीएएक्स 0.20 प्रतिशत तथा लंदन का एफटीएसई 0.30 प्रतिशत की गिरावट आयी।

Share it
Top