Top
Home » वाणिज्य » गूगल लेकर आया एक नया फीचर, यह बतायेगा क्यों आया फोन

गूगल लेकर आया एक नया फीचर, यह बतायेगा क्यों आया फोन

👤 mukesh | Updated on:29 Jun 2020 6:46 AM GMT

गूगल लेकर आया एक नया  फीचर, यह बतायेगा क्यों आया फोन

Share Post

नई दिल्लीर: आज कल फर्जी कॉल कुछ ज्यादा ही बढ़ गई हैं। फर्जी कॉल्स के जरिए जालसाज बैंक अकाउंट तक खाली कर देते हैं और इसके बारे में आपको पता तक नहीं चलता हैं। आपकी इस परेशानी को कम करने के लिए गूगल एक ऐसा फीचर लेकर आया है जिससे आपको ना सिर्फ कॉल करने वाली कंपनी का नाम और लोगो होगा बल्कि उसका कारण भी पता लगेगा।

जब भी कोई बिजनेस अपना फोन नबंर, आपका फोन नंबर और फोन करने की वजह गूगल को बताएगा, तो गूगल इस जानकारी आप तक पहुंचा देगा. अक्सर लोग फेक बिजनेस अकाउंट बनाकर खूब फर्जीवाड़ा करते हैं। ऐसे में आप कॉल आने से पहले ही समझ सकेगें की कॉल का क्या करण हैं और खुद को फर्जीवाड़े से बचा भी सकेगें।

यह फीचर आम यूजर्स के लिए बड़े काम का साबित हो सकता है। इससे यह तो पता चल ही जाएगा कि फोन क्यों आ रहा है, साथ ही आप यह भी तय कर पायेंगे कि फोन रिसीव करें या नहीं। इससे आप मार्केटिंग और फर्जी कॉल्स से भी आसानी से बचा पाएंगे।

अपने सपोर्ट पेज पर गूगल ने इसकी जानकारी देते हुए लिखा है कि यह फीचर बाय डिफॉल्ट ऑन हो जाएगा। हालांकि, यूजर चाहे तो इसे बंद कर सकते हैं. साथ ही गूगल ने ये भी बताया कि इस फीचर में सीमाएं भी हैं। यह फीचर पूरी तरह बिजनेस पर निर्भर करता है कि वे पूरी सक्रियता से जानकारी उपलब्ध कराते हैं या नहीं।

गूगल का ये भी कहना है कि जिन कॉल्स को वेरिफाइड का बैज नहीं मिला होगा, जरूरी नहीं कि वे स्पैम कॉल्स ही हों। कंपनी ने बताया कि यह फीचर सिर्फ गूगल फोन ऐप के लिए ही काम करेगा। (एजेंसी, हि.स.)

 पाकिस्तान में मंदिर को जमीन दी, पर मंदिर निर्माण में व्यवधान

पाकिस्तान में मंदिर को जमीन दी, पर मंदिर निर्माण में व्यवधान

नई दिल्ली। मुस्लिम समुदाय की ओर से मंदिर निर्माण का काम रोकने वाली याचिकाओं को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया है। मुस्लिम समुदाय की तरफ से...

 नेपाल : एनसीपी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक 10 जुलाई तक फिर स्थगित

नेपाल : एनसीपी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक 10 जुलाई तक फिर स्थगित

नई दिल्ली। नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक अब 10 जुलाई सुबह 11 बजे तक फिर स्थगित कर दी गई है। प्रधानमंत्री ओली के मीडिया सलाहकार...

 सीमा पर तस्करों को मारना बांग्लादेश को नागवार गुजर रहा है

सीमा पर तस्करों को मारना बांग्लादेश को नागवार गुजर रहा है

नई दिल्ली। बांग्लादेश की सरकार ने इस बात पर नाराज़गी जताई है कि आखिर भारतीय सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान उनके लोगों को गोली क्यों मार रहे हैं।...

 बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमान बने सरदर्द, अब तक 50 तस्करों का हुआ एनकाउंटर

बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमान बने सरदर्द, अब तक 50 तस्करों का हुआ एनकाउंटर

नई दिल्ली। म्यांमार से भागकर बांग्लादेश आए रोहिंग्या मुसलमान अब शेख हसीना की सरकार के लिए मुसीबत बन गए हैं। 5 जुलाई को रात को बाॅर्डर गार्ड ऑफ़...

 चीनी कम्पनियों का नया ठिकाना बन रहा है वियतनाम

चीनी कम्पनियों का नया ठिकाना बन रहा है वियतनाम

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में रियल एस्टेट उद्योग पिट रहा है, लेकिन चीन के पड़ोसी देश वियतनाम में रियल एस्टेट जबर्दस्त उछाल पर है। सबसे अधिक डिमांड...

Share it
Top