Top
Home » वाणिज्य » उप्र में टैक्स पेयर्स की संख्या बढ़ी : सीतारमण

उप्र में टैक्स पेयर्स की संख्या बढ़ी : सीतारमण

👤 mukesh | Updated on:26 Nov 2021 7:08 PM GMT

उप्र में टैक्स पेयर्स की संख्या बढ़ी : सीतारमण

Share Post

- अब ईस्ट यूपी से 21.83 लाख आईटीआर फाइल हो रहे

लखनऊ। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को यहां कहा कि राज्य की बेहतर हुई अर्थव्यवस्था और बड़े पैमाने पर हो रहे निवेश के चलते उत्तर प्रदेश में टैक्स पेयर्स की संख्या बढ़ी है। ईस्ट यूपी से 21.83 लाख आईटीआर फाइल हो रहा है। वर्ष 2016 (अखिलेश सरकार ) में ये संख्या चार लाख से कम थी। राज्य की योगी सरकार के प्रयासों से यह बड़ा बदलाव हुआ है।

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण आज लखनऊ में केंद्रीय अप्रत्क्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड के अलंकरण समारोह में हिस्सा लेने आयी थी। इस अवसर पर उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए कहा कि बीते एक वर्ष में आईटीआर काफी बढ़ा है। वर्ष 2016 में ये संख्या 4 लाख से नीचे थी।

वित्त मंत्री के अनुसार डायरेक्ट टैक्स ज्यादा आने से विकास कार्यों में तेजी आती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिस तरह से राज्य में औद्योगिक निवेश को बढ़ावा दिया। रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए एमएसएमई सेक्टर पर दिए गए विशेष ध्यान के चलते इस सेक्टर में बड़े पैमाने पर रोजगार मिला। साढ़े चार लाख से अधिक लोगों को सरकारी नौकरी मिली। इस तरह के तमाम प्रयासों के चलते टैक्स पेयर्स की संख्या बढ़ा। ये बड़ा बदलाव है, प्रदेश सरकार के प्रयासों से ही यह संभव हुआ है। अब डायरेक्ट टैक्स ज्यादा आने से प्रदेश के विकास कार्यों में तेजी आएगी।

केंद्रीय वित्तमंत्री ने प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए मुफ्त वैक्सीन लगाने और लोगों को मुफ्त इलाज कराने को लेकर किए जा रहे प्रयासों की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि यूपी में सबसे ज्यादा कोविड टेस्ट किए है और रिकार्ड वैक्सीनेशन हुआ है। शहर से लेकर गांव तक में हर व्यक्ति का कोरोना वैक्सीन लगाने का पुख्ता प्रबन्ध राज्य सरकार ने किया है। कोरोना से लोगों को बचाने के लिए प्रदेश सरकार के प्रयासों को संसार भर में सराहा गया है। (एजेंसी, हि.स.)

Share it
Top