Top
Home » संपादकीय » कोरोना संक्रमण के घटते मामलों से उम्मीद जगी

कोरोना संक्रमण के घटते मामलों से उम्मीद जगी

👤 Veer Arjun | Updated on:4 July 2020 9:53 AM GMT

कोरोना संक्रमण के घटते मामलों से उम्मीद जगी

Share Post

कोरोना जांच के हिसाब से पिछले आठ दिनों में संव््रामण दर में लगभग 11 प्रातिशत की कमी आईं है। इन आठ दिनों में 23 से 30 जून तक संव््रामण दर लगातार कम हुईं है। हालांकि यह कहना जल्दबाजी होगा कि राजधानी दिल्ली में संव््रामण उतार की ओर है। विशेषज्ञों का मानना है कि इस निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले हमें कम से कम एक सप्ताह इंतजार करना होगा।

इंडियन स्वूल ऑफ बिजनेस की विजिटिग प्राोपेसर शामिका रावी ने ट्विटर पर ग्राफ के जरिये बताया है कि सात दिन में जांच के मुकाबले पॉजिटिव केस का प्रातिशत कम हुआ है। आने वाले एक सप्ताह ऐसा ही रहता है तो राहत मिल सकती है। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि अब दिल्ली में कोरोना के केस बढ़ने के बजाय घट रहे हैं। राजधानी में 30 जून तक एक लाख केस होने की संभावना जताईं गईं थी लेकिन आज सिर्प इस आंकड़े के एक-तिहाईं केस ही हैं। इसी तरह 30 जून तक 60 हजार एक्टिव केस होने और अस्पताल में मरीजों को 15 हजार बैड की जरूरत पड़ने की आशंका जताईं गईं थी। लेकिन आज केवल 25 हजार केस एक्टिव हैं और 5800 बैड की जरूरत पड़ी है। अस्पतालों में मरीजों के बढ़ने की बजाय 450 मरीज कम हो गए हैं। पहले 100 सैंपल की जांच में 31 पॉजिटिव केस मिलते थे, लेकिन अब केवल 13 मिल रहे हैं।

कोरोना के प्रातिदिन औसतन 60 से 65 लोगों की मौत हो रही है, जिसे और भी कम करना है। एक माह पहले दिल्ली में 38 प्रातिशत मरीज ठीक हो रहे थे जबकि आज 67 प्रातिशत ठीक हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कोरोना से मौत कम होने लगी है। एक दिन में 125 लोगों की मौत हुईं थी, लेकिन अब प्रातिदिन 60 से 65 के आसपास मौतें हो रही हैं।

केजरीवाल ने कहा कि वुछ एक्सपर्ट लिख रहे हैं कि दिल्ली में पीक आकर जा चुका है। आप लोगों से गुजारिश है कि एक्सपर्ट की तरफ ध्यान न दीजिए। मास्क पहनते रहिए, सोशल डिस्टेंस मेनटेन करें, भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचें और अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने पर विशेष ध्यान दें।

Share it
Top