Top
Home » शिक्षा » शिक्षकों को बीएलओ बनाओगे तो गुणवत्तायुक्त शिक्षा कैसे पाओगे

शिक्षकों को बीएलओ बनाओगे तो गुणवत्तायुक्त शिक्षा कैसे पाओगे

👤 manish kumar | Updated on:2 Oct 2019 4:26 AM GMT

शिक्षकों को बीएलओ बनाओगे तो गुणवत्तायुक्त शिक्षा कैसे पाओगे

Share Post

नरसिंहपुर। अपनी विभिन्न मांगों व समस्याओं को लेकर आक्रोशित नजर आये जिले के अध्यापक शिक्षक संवर्ग ने संयुक्त शिक्षक मोर्चा के बैनर तले जिला कलेक्ट्रेट में नारेबाजी करते हुए हल्ला बोला। इस मौके पर संयुक्त मोर्चा द्वारा अपर कलेक्टर को शासन-प्रशासन के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा गया। जिसमें पुरानी पेंशन योजना, पदोन्नति शुरू करने, 7 वां वेतन भुगतान और अन्य गंभीर समस्याओं के निराकरण की मांग की गयी। ज्ञापन में बताया गया कि सेवानिवृत्ति के बाद अपनी पेंशन को लेकर शिक्षकों को भारी चिंता सता रही है, क्योंकि नई पेंशन योजना शेयर बाजार पर आधारित होने के कारण काफी जोखिम भरी है जिसमें हजार से लेकर 2 हजार रूपये की नाममात्र की पेंशन राशि मिलने की संभावना है। नए संवर्ग के नियुक्ति आदेश में सातवां वेतनमान 1 जुलाई 2018 का लिखित आदेश होने के बावजूद प्रदेश समेत जिले में भी किसी को भी सातवां वेतनमान नहीं मिल रहा है। नवनियुक्त शिक्षकों ने एक जनवरी 2016 से अन्य विभागों के कर्मचारियों के समान सातवां वेतन भुगतान और छठवें वेतनमान की विसंगति सुधारने की मांग रखी।

गैर शिक्षकीय कार्यों से पढ़ाई प्रभावित

ज्ञापन में यह भी कहा गया कि निर्वाचन कार्य हेतु बीएलओ बनाये गये शिक्षकों द्वारा काफी दवाब में काम किया जा रहा है। लोक शिक्षण भोपाल राज्य शिक्षा केंद्र एवं कमिश्नर जबलपुर ने भी माना है कि यह गैर शैक्षणिक कार्य है, इसके कारण बच्चों की पढ़ाई बुरी तरह प्रभावित हो रही है। शिक्षकों को कहा जा रहा है कि शाला समय के पश्चात घर-घर जाकर निर्वाचक नामावली से नाम काटने-जोड़ने, मतदाताओं की रंगीन फोटो लेकर उसे कम्प्यूटर में फीड करायें। बीएलओ सहित अन्य गैर शिक्षकीय कार्य शिक्षकों से लेने के कारण विद्यार्थियों को गुणवत्तायुक्त शिक्षा नही मिल पा रही है। इन्होंने मांग की है कि शिक्षकों से अध्यापन के अलावा अन्य कार्य न लिये जायें।

अन्य समस्याएं भी बतायीं

ज्ञापन में यह भी बताया गया कि जिला स्तर से संकुल प्राचार्य, डीडीओ व लिपिकों की हठधर्मिता पर लगाम न लग पाने के कारण भुगतान हेतु शिक्षक परेशान हैं। 6 वें वेतन आयोग, महंगाई भत्ते, एरियर राशि हड़ताल अवधि का रूका हुआ वेतन की समस्या से शिक्षक जूझ रहे हैं। इस मौके पर विभिन्न अध्यापक संगठनों के पदाधिकारियों सहित सैंकड़ों अध्यापक शिक्षक मौजूद थे।

 इस्लामाबाद में कोरोना का कहर जारी, 14 अप्रैल तक लॉकडाउन

इस्लामाबाद में कोरोना का कहर जारी, 14 अप्रैल तक लॉकडाउन

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में कोरोना से आज पहली मौत हुई है। इस्लामाबाद सरकार ने आठ दिनों के लिए लागू लॉकडाउन को और आठ दिनों के लिए...

 कोरोना वायरस पर गुरुवार को चर्चा करेंगे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य देश

कोरोना वायरस पर गुरुवार को चर्चा करेंगे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य देश

नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने पहली बार कोविड-19 महामारी पर चर्चा करने का निर्णय लिया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद कोविड-19 महामारी...

 शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या के भगोड़ा अपराधी अब्दुल माजेद गिरफ्तार

शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या के भगोड़ा अपराधी अब्दुल माजेद गिरफ्तार

ढाका । बंगबंधू शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या करने में शामिल भगोड़े अपराधी अब्दुल माजेद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।ढाका के चीफ मेट्रोपोलिटेन...

 जापान में आपातकाल और 1 ट्रिलियन डॉलर का प्रोत्साहन पैकेज घोषित

जापान में आपातकाल और 1 ट्रिलियन डॉलर का प्रोत्साहन पैकेज घोषित

टोक्यो। कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिये टोक्यो और छह अन्य प्रान्तों में जापान आपातकालीन स्थिति को लागू करने वाला है। इसके साथ ही सरकार ने 990...

 ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

इस्लामाबाद । ब्लूचिस्तान में सोमवार को पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के सदस्यों को गिरफ्तार किया है। ये लोग पर्सनल प्रोटेक्टिव...

Share it
Top