Top
Home » मनोरंजन » लता मंगेशकर ने खास अंदाज में दी बहन आशा भोसले को 88वें जन्मदिन की बधाई

लता मंगेशकर ने खास अंदाज में दी बहन आशा भोसले को 88वें जन्मदिन की बधाई

👤 Veer Arjun | Updated on:8 Sep 2021 1:21 PM GMT

लता मंगेशकर ने खास अंदाज में दी बहन आशा भोसले को 88वें जन्मदिन की बधाई

Share Post


आशा भोसले आज अपना 88वां जन्मदिन मना रही हैं। इस खास मौके पर उनकी बड़ी बहन लता मंगेशकर ने सोशल मीडिया पर उन्हें खास अंदाज में जन्मदिन की बधाई दी है

मशहूर गायिका आशा भोसले आज अपना 88वां जन्मदिन मना रही हैं। इस खास मौके पर उनकी बड़ी बहन लता मंगेशकर ने सोशल मीडिया पर उन्हें खास अंदाज में जन्मदिन की बधाई दी है। लता मंगेशकर ट्विटर पर एक थ्रोबैक तस्वीर साझा की है। इस तस्वीर में लता मंगेशकर और आशा भोसले दोनों ही बहुत खुश और हंसते हुए दिखाई दे रही हैं।

इस तस्वीर को शेयर कर लता मंगेशकर ने लिखा-'नमस्कार। आज मेरी छोटी बहन आशा भोसले का जन्मदिन है। मैं उसको बहुत -बहुत बधाई और आशीर्वाद देती हूँ। आशा एक कमाल की गायिका है। वर्सटाइल सिंगर है। वो दीर्घायु हो। ईश्वर उसको और उसके परिवार को हमेशा और सुखी रखे यहीं मेरी मनोकामना ।'

लता मंगेशकर और आशा भोसले की जोड़ी बॉलीवुड में काफी मशहूर है। दोनों बहनें भारत की सर्वश्रेठ गायिका मानी जाती हैं। लता और आशा के पिता स्वर्गीय दीनानाथ मंगेशकर थे, जो उस समय के जाने माने अभिनेता एवं गायक थे। पिता ये गुण लता और आशा में आए। जब लता और आशा छोटी थी तभी उनके पिता का देहांत हो गया। उसके बाद 14 वर्षीय लता एवं 9 वर्षीय आशा भोसले अपने परिवार के साथ पुणे से कोल्हापुर और उसके बाद मुंबई आ गई। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण परिवार की सहायता के लिए दोनों बहनों ने साथ मिलकर गाना व फिल्मों में अभिनय करना शुरू कर दिया।लता मंगेशकर को फिल्म इंडस्ट्री ने जहां खुली बाहों से स्वीकार किया, वहीं आशा के लिए इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाना बहुत मुश्किल रहा। आशा जब 16 वर्ष की थी तभी उन्हें अपने से लगभग दोगुने आदमी से प्रेम हो गया। यह व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि लता मंगेशकर के निजी सचिव गणपत राव भोसले थे। आशा उनके प्यार में इस कदर दीवानी हो गई कि उन्होंने अपने परिवार के खिलाफ जाकर गणपत राव से शादी कर ली जिसके बाद उनके पारिवारिक रिश्तों में कड़वाहट घुल गई। खास कर लता मंगेशकर बहन आशा से बहुत नाराज हुईं और दोनों बहनों में बातचीत तक बंद हो गई। लता को लगता था कि गणपत आशा के लिए ठीक नहीं है। हालांकि बाद में बहनों के बीच सब ठीक हो गया। आशा भोसले और गणपत राव के तीन बच्चे हुए, लेकिन यह रिश्ता ज्यादा दिन तक नहीं चला। इसके बाद आशा भोसले अपना करियर बनाने में लग गईं। साल 1980 में आशा ने मशहूर संगीतकार आरडी बर्मन से शादी कर ली। दोनों की यह दूसरी थी, लेकिन यह साथ भी लम्बा न चल सका। साल 1994 में आरडी बर्मन का निधन हो गया।

Share it
Top