Home » हरियाणा » विद्यार्थी अब खेल-खेल में पाठ्यकम सीख कर बनेंगे सक्षम : फुलिया

विद्यार्थी अब खेल-खेल में पाठ्यकम सीख कर बनेंगे सक्षम : फुलिया

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2018-05-12 15:09:04.0
Share Post

कुरुक्षेत्र (राजकुमार वालिया)। उपायुक्प डा. एसएस फुलिया ने कहा कि स्कूलों में एक ऐसा शैक्षिणक माहौल तैयार करना है। जिस माहौल में पत्येक विद्यार्थी खेल-खेल में, प्यार से शिक्षा ग्रहण करें और अपने पाठय कम को सीख कर सक्षम बन जाएं। इस योजना के तहत कुरुक्षेत्र के बाबैन ब्लॉक को सबसे पहले सक्षम बनाने का पयास किया जाएगा।

वे शनिवार को राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कुरुक्षेत्र में सक्षम हरियाणा के अंतर्गत आयोजित बाबैन खंड के शिक्षकों को सक्षम सम्बधी टेनिंग की एक दिवसीय कार्याशाला का शुभारंभ करने के उपरांत शिक्षकों को सम्बोधित कर रहे थे। इससे पहले उपायुक्प डा. एसएस फुलिया, जिला शिक्षा अधिकारी, नमिता कौशिक,जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी सतनाम सिंह,बाबैन खंड के शिक्षा अधिकारी बलजीत सिंह मलिक व मुख्याध्यापक अनिल कपूर ने दीप शिखा पज्ज्वलित कर विधिवत रूप से कार्यशाला का उदघाटन किया। इसके उपरांत उपायुकत ने स्कूल के पांगण में पौधा रोपण कार्यकम में भी भाग लिया। उपायुक्प ने कहा कि पत्येक शिक्षक को एक सकारात्मक भूमिका निभानी है, विद्यार्थियों को पेरित करके स्कूल में शिक्षा के लिए एक अच्छा माहौल तैयार करना है। जब स्कूल का माहौल शिक्षा की दृष्टि से सर्व श्रेष्ठ होगा तो विद्यार्थी के मन में पढ़ने और सीखने की ललक पैदा होगी। उन्हेंने कहा कि विद्यार्थियों के दिलो दिमाग पर शिक्षा का डर ना हो और विद्यार्थी को खेल-खेल में प्यारे ढंग से पाठय कम को पढ़ाया जाए तो बच्चा खुद ब खुद सक्षम बन जाएगा। विद्यार्थियों को सक्षम बनाने के लिए ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल और शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा नई योजनाओं पर कार्य रहे है। सभी शिक्षकों को पण लेकर सबसे पहले बाबैन ब्लॉक को सक्षम बनाने का संकल्प पूरा करना होगा। इसके पश्चात धीरे-धीरे पूरा कुरुक्षेत्र सक्षम हो जाएगा और राज्य सरकार का सपना भी पूरा हो जाएगा। जिला शिक्षा अधिकारी नमिता कौशिक ने मेहमानों और शिक्षकों का स्वागत करते हुए कहा कि कुरुक्षेत्र को सक्षम बनाने के लिए एक निर्धारित योजना बनाने की आवश्यकता है और इस योजना पर सबको मिलकर कार्य करना होगा। शिक्षा विभाग ने बाबैन खंड को सबसे पहले सक्षम बनाने का निश्चय किया है। इस वर्पशाप में जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी सतनाम सिंह,खंड शिक्षा अधिकारी बलजीत सिंह मलिक, मुख्याध्यापक अनिल कपूर, मियां सिंह रंगा व डा. मोहित गुप्ता ने भी अपने विचार व्यक्प किए। इस कार्यकम के मंच का संचालन विकास शर्मा ने किया। इस मौके पर खंड शिक्षा अधिकारी विनोद कौशिक, राम दिया गागड,विरेन्द गर्ग,डा. पदीप आर्य,संतोष शर्मा, सुनीता, सतबीर कौशिक, ममता रानी,रणबीर सिंह, विजेन्द शर्मा सहित अन्य शिक्षक मौजूद थे।

Share it
Top