Top
Home » हरियाणा » हरियाणा के मुख्यमंत्री ने सिविल सेवा परीक्षा के टॉपर प्रदीप मलिक को किया सम्मानित

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने सिविल सेवा परीक्षा के टॉपर प्रदीप मलिक को किया सम्मानित

👤 manish kumar | Updated on:9 Aug 2020 12:21 PM GMT

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने सिविल सेवा परीक्षा के टॉपर प्रदीप मलिक को किया सम्मानित

Share Post

नई दिल्ली । हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रविवार को सिविल सेवा परीक्षा-2019 में प्रथम स्थान प्राप्तकर्ता प्रदीप सिंह मलिक का शाल ओढाकर अभिनंदन करते हुए कहा कि युवाओं को उनसे प्रेरणा मिलेगी।

नई दिल्ली में हरियाणा भवन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदीप मलिक को उनकी सफलता पर बधाई व शुभकामना दी। खट्टर ने प्रदीप सिंह मलिक के पिता सुखबीर सिंह मलिक का भी शाल ओढाकर सम्मान करते हुए कहा कि प्रदीप सिंह मलिक की सफलता का श्रेय इन्हें भी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदीप सिंह मलिक ने सोनीपत, हरियाणा के साथ-साथ अपने परिवार का नाम रौशन किया है।

उल्लेखनीय है कि संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा-2019 में प्रथम स्थान प्राप्तकर्ता प्रदीप सिंह मलिक मूल रूप से हरियाणा के सोनीपत जिला के तेवडी गांव के निवासी हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदीप सिंह मलिक ने अपनी योग्यता से प्रथम स्थान प्राप्त किया है। देश के युवा प्रतिभावान हैं और अवसर मिलने पर अपनी प्रतिभा व योग्यता से सफलता प्राप्त कर रहे हैं।

हरियाणा के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आह्वान किए गए 'आत्मनिर्भर भारत ' का जिक्र करते हुए कहा कि युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढने के लिए बेहतर व पर्याप्त अवसर उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि चर्चा के दौरान प्रदीप सिंह मलिक ने बताया कि उनकी सफलता में समाज, शिक्षकों, परिवार, मित्रों व सभी का सहयोग रहा है।

इस अवसर पर प्रदीप सिंह मलिक ने कहा, " मुझे लगता है कि मेरे स्टेट ने मुझे काफी हेल्प किया है"। इस संदर्भ में उन्होंने बताया कि साक्षात्कार प्रकिया के दौरान उनसे प्रशासनिक दृष्टिकोण से हरियाणा के संदर्भ में प्रश्न पूछे गए। प्रत्युत्तर में उन्होंने हरियाणा सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं व 'इज ऑफ डूईंग बिजनेस' के लिए हरियाणा सरकार द्वारा किए गए विभिन्न सुधारों को शामिल किया। सुशासन सूचकांक के दृष्टिगत टाॅप पांच राज्यों में हरियाणा का शामिल होना व ई-गवर्नेंस के दृष्टिगत गोल्ड अवार्ड मिलने के अतिरिक्त महिला सशक्तिकरण तथा कृषि क्षेत्र को सुदृढ़ करने की दिशा में क्रियान्वित विभिन्न योजनाएं को शामिल किया। एजेंसी/हिस

Share it
Top