Top
Home » हरियाणा » गुरुग्राम शहर बरसाती पानी से लबालब, लोग पूछ रहे कहां है विकास

गुरुग्राम शहर बरसाती पानी से लबालब, लोग पूछ रहे कहां है विकास

👤 manish kumar | Updated on:13 Aug 2020 12:12 PM GMT

गुरुग्राम शहर बरसाती पानी से लबालब, लोग पूछ रहे कहां है विकास

Share Post

गुरुग्राम। बुधवार रात से ही शहर में हो रही बरसात का पानी शहर में भर गया। कई इलाकों में कई फुट पानी भरा रहा। अत्यधिक पानी भरने वाले स्थानों पर पंप लगाकर पानी निकालने का कार्य किया गया। बरसात में जलभराव से लोग पूछ रहे हैं कि कहां है वह विकास, जिसके दावे सरकार और प्रशासन करता आ रहा है।

यहां नगर निगम के अधीन गांव बसई में बरसात से पूर्व करोड़ों की लागत से बरसाती पानी की निकासी के लिए बड़े-बड़े पाइप दबाए गए थे, ताकि बरसात में पानी निकल सके। लेकिन यहां इस पाइन लाइन का कोई फायदा नहीं हुआ। सेक्टर-10 स्थित अल्पाइन स्कूल के पास भी जलभराव भारी मात्रा में रहा। यहां भी पानी की निकासी के कोई प्रबंध नजर नहीं आए। इसी तरह सेक्टर-10 चौक से हीरो होंडा चौक की तरफ सड़क पर, सेक्टर-4 चौक से सेक्टर-9 की तरफ जाते हुए पूरी सड़क बरसाती पानी से लबालब रही।

बाबा प्रकाशपुरी चौक से लक्ष्मण विहार, धनवापुर, सेक्टर-5, माता शीतला रोड, सेक्टर-56, मालिबू टाउन, सोहना रोड, रेलवे स्टेशन के पास भीमगढ़ खेड़ी में पानी भरा रहा। राजेंद्रा पार्क में शिव मूर्ति के पास काफी बरसाती पानी भर गया। शहर में डे्रनेज सिस्टम पूरी तरह से फेल नजर आया। चंदनलाल, मुकेश, राजमन, शक्ति सिंह, हरज्ञान, विप्लव, विष्णु, सत्यम, अंकुश, टिंकपाल का कहना है कि जिन बरसाती नालों की सफाई करने के लिए पूर्व में अधिकारियों द्वारा बड़े-बड़े दावे किए गए थे, वो सिर्फ दावे ही हैं।

सेक्टर-14 के सामने स्थित औद्योगिक क्षेत्र की सड़कें भी बरसाती पानी में डूबी रही। हर बार बरसात से पूर्व यहां पर उद्योगपतियों की मांग रहती है कि यहां पर डे्रनेज सिस्टम दुरुस्त किया जाए, लेकिन कोई फायदा आज तक नहीं हो पाया है। गुडग़ांव इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन के अध्यक्ष जेएन मंगला का कहना है कि प्रशासन का उद्योगपतियों की समस्या की ओर कोई ध्यान नहीं है। सरकार को पूरा टैक्स देते हैं, लेकिन सुविधाओं के लिए तरसते हैं।

Share it
Top