Top
Home » हरियाणा » स्वास्थ्य कर्मियों को राज्य व जिला स्तर पर सम्मानित करेगी सरकार : विज

स्वास्थ्य कर्मियों को राज्य व जिला स्तर पर सम्मानित करेगी सरकार : विज

👤 Veer Arjun | Updated on:25 Sep 2021 10:26 AM GMT
Share Post

चंडीगढ़। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि कोविड के दौरान अच्छा कार्य करने वाले स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों को राज्य स्तर पर व जिला पर सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा, राज्य के जिन घरों में सभी सदस्यों को कोविड की दोनों वैक्सीन लग गई होंगी, उनके घर को ''ग्रीन स्टार हाऊस'' कहा जाएगा ताकि अन्य लोग भी वैक्सीन लगवाने के प्रति प्रोत्साहित हो सकें। ऐसे ही, राज्य की सभी 92 नगर पालिकाओं में कार्यरत सभी कर्मियों को वैक्सीनेट जाएगा।

विज शुक्रवार को चंडीगढ़ में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ स्वास्थ्य से संबंधित विभिन्न गतिविधियों को लेकर एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में बताया गया कि राज्य में कुल कोविड जांच की 40 प्रयोगशालाएं हैं जिसमें से 19 सरकारी और 21 निजी प्रयोगशालाएं हैं और इन प्रयोगशालाओं द्वारा प्रति दिन लगभग 1 लाख 30 हजार सैंपल की जांच की जा रही है। इसके अलावा, प्रदेश के फतेहाबाद, हिसार, नारनौल, कुरूक्षेत्र, चरखी-दादरी, कैथल, झज्जर व पलवल में 8 नई मोलीक्यूलर प्रयोगशालाएं स्थापित की जा रही है और इसकी लगातार समीक्षा की जा रही है। इसी प्रकार, प्रदेश में 1.73 करोड लोगों की स्क्त्रीनिंग की गई हैं जिसमें से 65 प्रतिशत लोगों का आईएलआई (इन्फयूंजा लाईक इलनेस) लक्षण पाया गया।

विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिन लोगों को कोविड की दूसरी वैक्सीन लगनी है, उनका डाटा तैयार करके, उनकी पात्रता होने पर उन्हें जानकारी दी जाए, इस पर अधिकारियों ने मंत्री को अवगत कराया कि इस बारे में पात्र लोगों को एसएमएस के माध्यम से लगातार सूचित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि घर-घर जाकर कोविड की दूसरी वैक्सीन पात्र लोगों को लगाई जानी चाहिए।

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि राज्य की सभी 92 नगर पालिकाओं में कार्यरत सभी कर्मियों को वैक्सीनेट किया जाए ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की दिक्कत न हों।

ऐसे ही, ड्रग्स के संबंध में विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि नकली दवाओं की जांच के लिए लगातार छापामारी रखी जाए ताकि तरूणाई को नशे से बचाया जा सकें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि छापामारी के लिए रैंडम फार्मूले पर काम किया जाए और कंप्यूटर की मार्फत रेंडम आर्डर निकाल कर अमुक दुकानों इत्यादि पर छापामारी की जाए। इसी प्रकार, मंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले सात महीने पर 241 छापे मारे गए और 10502 निरीक्षण किए गए। (हि.स.)

Share it
Top