Top
Home » स्वास्थ्य » गुदा संबंधी बीमारियों पर चर्चा करने मुंबई में जुटे हैं दुनियाभर के 900 डॉक्टर

गुदा संबंधी बीमारियों पर चर्चा करने मुंबई में जुटे हैं दुनियाभर के 900 डॉक्टर

👤 Veer Arjun | Updated on:2 Nov 2019 12:51 PM GMT

गुदा संबंधी बीमारियों पर चर्चा करने मुंबई में जुटे हैं दुनियाभर के 900 डॉक्टर

Share Post

मुंबई । दुनियाभर के नीमचीन सर्जन मलाशय और गुदा संबंधी बीमारियों के निदान पर चर्चा के लिए मुंबई में एकजुट हुए हैं। वे इन बीमारियों को सहज तरीके से दूर करने के लिए अपने रिसर्च और अनुभव साझा कर रहे हैं। दुनिया के 900 सर्जन मुंबई के ग्रैंड हयात होटल में एक से तीन नवम्बर तक चलने वाले इस कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं।

कार्यक्रम आयोजन टीम के सेक्रेटरी डॉ. निरंजन अग्रवाल के मुताबिक इंटरनेशनल सोसाइटी आफ यूनिवर्सिटी कॉलोन एंड रेक्टल सर्जन और 42वें एनुअल नेशनल काफ्रेंस आफ एसोसिएशन आफ कॉलोन एंड रेक्टल सर्जन्स आफ इंडिया-प्रॉक्टोलॉजी/एकरसिकोन 2019 की पहली अंतरिम बैठक चल रही है। इसमें दुनियाभर के 900 प्रतिनिधि शामिल हुए हैं जिसमें दुनियाभर से 150 फेकल्टी मेंबर्स हैं जो कॉलोन रेक्टल और गुदा से संबंधित सामान्य बीमारियों पर चर्चा कर रहे हैं।

इन बीमारियों को कितनी सहजता से ठीक किया जा सकता है उसकी रिसर्च रिपोर्ट और अनुभव साझा कर रहे हैं। कॉन्फ्रेंस के दौरान कॉलोरेक्टल सर्जरी के प्रमुख भी उपस्थित हैं। कॉलोप्रॉक्टोलॉजी से संबंधित एडवांस टेक्नोलॉजी पर चर्चा के साथ ही कार्यक्रम स्थल पर चेंबूर के जेन अस्पताल से सर्जरी का लाइव प्रदर्शन किया जाएगा।

मास्टर वीडियो और चर्चा के दौरान अनुभवी सर्जन की-नोट्स पढ़ेंगे। देश के भी सर्जन हिस्सा ले रहे हैं और सर्जरी में अत्याधुनिक तकनीकों का किस तरह से इस्तेमाल हो रहा है उस पर विस्तृत जानकारी दी जा रही है। बवासीर, भगंदर और गुदा कैंसर के मरीज बड़ी संख्या में हैं इसके इलाज के लिए कई आधुनिक तकनीक इस्तेमाल हो रहा है।

Share it
Top