Home » मध्य प्रदेश » ग्वालियरः महिला एएसआई को कॉन्स्टेबल से हुआ प्यार, चुनावी ड्यूटी से हुए गायब, कर ली शादी

ग्वालियरः महिला एएसआई को कॉन्स्टेबल से हुआ प्यार, चुनावी ड्यूटी से हुए गायब, कर ली शादी

👤 mukesh | Updated on:14 May 2024 9:27 PM GMT

ग्वालियरः महिला एएसआई को कॉन्स्टेबल से हुआ प्यार, चुनावी ड्यूटी से हुए गायब, कर ली शादी

Share Post

- सात दिन से हैं लापता, ऑफिस नहीं आने पर किया गया दोनों को सस्पेंड

ग्वालियर। ग्वालियर के आईजी दफ्तर में तैनात एक महिला एएसआई और कॉन्स्टेबल पिछले पिछले दिन से लापता है। दोनों की सात मई को तीसरे चरण में शामिल ग्वालियर लोकसभा सीट पर हुए मतदान के दौरान ड्यूटी लगी थी। उन्होंने ड्यूटी पूरी की। इसके बाद वे न दफ्तर लौटे और न ही अपने घर। जिसके बाद दोनों को सस्पेंड कर दिया गया है। मंगलवार को पता चला है कि दोनों ने शादी कर ली है। दोनों को ऑफिस में काम करते-करते एक-दूसरे से प्यार हो गया था।

महिला एएसआई का नाम निशा जैन है। वह आईजी ऑफिस में बतौर कार्यपालक लिपिक तैनात हैं, वहीं कॉन्स्टेबल का नाम अखंड प्रताप सिंह है। दोनों ने सात मई को हुए मतदान के दौरान अपनी ड्यूटी की। दोनों चुनाव के दूसरे दिन यानी आठ मई से गायब हैं। ये दोनों अपने घर भी नहीं पहुंचे और दोनों के मोबाइल भी उसी दिन से बंद हैं। निशा की मां ने कंपू थाना में बेटी की गुमशुदगी भी दर्ज कराने की बात कह रही हैं। हालांकि, कंपू थाना पुलिस ने इस बात से इनकार किया है।

जानकारी के मुताबिक, एएसआई निशा जैन और आरक्षक अखंड प्रताप पांच साल से एक साथ, एक ही ऑफिस में कार्यरत हैं। इसी बीच दोनों में पहले दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे उनकी दोस्ती प्यार में बदली। इसके बाद अब दोनों की शादी की खबर सामने आई है। निशा की मां ने आईजी को बताया कि वह लगातार अपने साथी से शादी करने के लिए कह रही थी। सोमवार को बेटी का फोन आया था। उसने सिर्फ इतना बताया कि दिल्ली के आर्य समाज मंदिर में उसने शादी कर ली है।

इधर, ग्वालियर आईजी अरविंद सक्सेना ने एएसआई और आरक्षक के काम पर वापस नहीं लौटने पर काम में लापरवाही मानते हुए दोनों को सस्पेंड कर दिया है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि दोनों पुलिसकर्मी वयस्क हैं। उन्हें अपने जीवन से संबंधित निर्णय लेने का अधिकार है।

Share it
Top