Top
Home » मध्य प्रदेश » सरकारी सीटी स्कैन मशीन बंद, आयोग ने मांगी रिपोर्ट

सरकारी सीटी स्कैन मशीन बंद, आयोग ने मांगी रिपोर्ट

👤 manish kumar | Updated on:7 Dec 2019 2:37 PM GMT

सरकारी सीटी स्कैन मशीन बंद, आयोग ने मांगी रिपोर्ट

Share Post

भोपाल । मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने हमीदिया अस्पताल में लगी सीटी स्कैन मशीन बंद होने पर संज्ञान लिया है। इस मामले में आयोग ने अधीक्षक, हमीदिया अस्पताल, भोपाल से 15 दिवस में प्रतिवेदन मांगा है। आयोग ने यह भी पूछा है कि सीटी स्कैन मशीन की बैट्री कब से खराब पडी है ? अबतक उसे ठीक कराने की क्या कार्यवाही की गई है ? तथा यह सुविधा कब तक प्रारम्भ होगी ?

मानव अधिकार आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार राजधानी के हमीदिया अस्पताल में मरीजों से सीटी स्कैन और एमआरआई जांच के लिए शुल्क लिया जा रहा है और प्राइवेट अस्पतालों की तरह फीस ली जा रही है। वहीं, कमला नेहरू अस्पताल में पीपीपी मोड में लगाई गई मशीन बंद पड़ी है, नई मशीन से जांचें की जा रही हैं। एक समाजसेवी बीपी सराठे द्वारा हमीदिया अस्पताल की अध्यक्ष और भोपाल संभाग की आयुक्त को पत्र लिखकर इस मशीन के बंद होने की जानकारी दी गई। आयुक्त ने इस मामले में तत्काल अधीक्षक हमीदिया को पत्र लिखकर कार्रवाई के आदेश दिए। अधीक्षक का कहना है कि मशीन की बैट्री खराब है और शासन को लिखा है। जैसे ही बैट्री आ जाएंगी, मशीन चालू कर दी जाएगी।

इसके साथ ही आयोग ने बीडीए के गौरीशंकर आवासीय परिसर में लिफ्ट में ताले लगाए जाने तथा शिवपुरी के जिला अस्पताल में 50 महिलाओं को स्टरलाइजेशन के बाद फर्श पर लिटाए जाने के मामलों में भी संज्ञान लिया है। इन दोनों ही मामलों में आयोग ने अधिकारियों ने रिपोर्ट तलब की है। हिस

Share it
Top