Top
Home » मध्य प्रदेश » मप्र के मंत्री के रिश्तेदारों की दबंगाई, दलित परिवार गांव से बाहर निकलने को मजबूर

मप्र के मंत्री के रिश्तेदारों की दबंगाई, दलित परिवार गांव से बाहर निकलने को मजबूर

👤 manish kumar | Updated on:1 Dec 2020 5:25 AM GMT

मप्र के मंत्री के रिश्तेदारों की दबंगाई, दलित परिवार गांव से बाहर निकलने को मजबूर

Share Post


मंत्री के रिश्तेदारों की दबंगाई, दलित परिवार ने एसपी से लगाई इंसाफ की गुहार

शिवपुरी। मध्‍य प्रदेश के शिवपुरी जिले बैराड़ थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम झलवासा के एक पीड़ित दलित परिवार ने एसपी ऑफिस के बाहर अपना डेरा डाला, परिवार का आरोप है कि गांव में ही रहने वाले दबंग धाकड़ समाज के कुछ लोगों ने भाजपा पर वोट नहीं डालने पर हमारे खिलाफ झूठी एफआईआर दर्ज करा दी, जिससे हम लोग गांव में नहीं रह पा रहे है, दबंगो से परेशान पीड़ित पूरे परिवार ने एसपी ऑफिस के सामने अपना डेरा जमा लिया है। पीड़ित परिवार ने मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार के पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा के रिश्तेदारों पर दबंगई दिखाने का आरोप लगाया है।

दरअसल ग्राम झलवासा में रहने वाले पीड़ित दलित परिवार पर पास में रहने वाले दबंग रामकिशन धाकड़ और उसके कुछ साथी हमसे उपचुनाव में भाजपा पर वोट डालने की बोल रहे थे और हमने बोला कि हम हाथी पर ही वोट डालेंगे इसी से नाराज दबंगो ने थाने में हमारी झुठी रिपोर्ट दर्ज करा दी, सुरेश राठखेड़ा से बोलकर पुलिस वाले बहुत परेशान कर रहे और पुलिस भी हमारी नहीं सुन रही है जब तक हमें इंसाफ नही मिलेगा जब तक हम एसपी ऑफिस के सामने डेरा जमाए रखेंगे।

पीड़ित दलित हरवीर सिंह ने आरोप लगाए कि दबंग रामकिशन धाकड़ और उसके कुछ साथी हमसे उपचुनाव में भाजपा पर वोट डालने की बोल रहे थे और हमने बोला कि हम हाथी पर ही वोट डालेंगे इसी से नाराज दबंगो ने थाने में हमारी झुठी रिपोर्ट दर्ज करा दी, सुरेश राठखेड़ा से बोलकर पुलिस वाले बहुत परेशान कर रहे और पुलिस भी हमारी नही सुन रही है। महिला वर्षा ने कहा कि जब तक हमें इंसाफ नही मिलेगा जब तक हम एसपी ऑफिस के सामने डेरा जमाए रखेंगे।

वही उप पुलिस अधीक्षक प्रवीण कुमार भूरिया का कहना है कि पीड़ित परिवार का आवेदन प्राप्त हुआ है। हम बैराड़ थाने से जानकारी ले रहे है। टी आई को समझाइश दी गई जांच की जा रही है। जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी।(एजेंसी/हि.स.)

Share it
Top