Top
Home » मध्य प्रदेश » PM मोदी की सुरक्षा में हुई चूक संयोग नहीं षड्यंत्र थाः CM शिवराज

PM मोदी की सुरक्षा में हुई चूक संयोग नहीं षड्यंत्र थाः CM शिवराज

👤 mukesh | Updated on:12 Jan 2022 8:51 PM GMT

PM मोदी की सुरक्षा में हुई चूक संयोग नहीं षड्यंत्र थाः CM शिवराज

Share Post

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि पंजाब के फिरोजपुर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी (Prime Minister Narendra Modi) की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ (Playing with the security) किया गया है, इसका एक टीवी चैनल ने स्टिंग ऑपरेशन में खुलासा किया है। अब यह स्पष्ट हो गया है कि प्रधानमंत्री मोदी जी सुरक्षा में हुई चूक संयोग नहीं, षड्यंत्र था।

मुख्यमंत्री चौहान ने बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि 5 जनवरी के दिन पूरा देश स्तब्ध था, जनता चिंतित और संसार चकित था। प्रधानमंत्री जी की सुरक्षा के साथ भी साजिश की जा सकती है, यह कोई कल्पना तक नहीं कर सकता था। मैंने उस दिन भी कहा था कि यह कोई चूक नहीं हो सकती है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि उस दिन जो हमने कहा था, वह सिद्ध हो गया है। प्रधानमंत्री मोदी जी की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ का एक टीवी चैनल ने अपने स्टिंग ऑपरेशन में खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि जनता के बीच कांग्रेस का ग्राफ तो गिर ही रहा था, चरित्र भी गिर गया। स्टिंग ऑपरेशन में कई तरह के खुलासे हुए हैं। स्थानीय एसएचओ और डीएसपी सीआईडी बता रहे हैं कि प्रधानमंत्री मोदी जी के रूट पर होने वाली रुकावट की जानकारी पहले से ही थी। उन्होंने आला अधिकारियों को जानकारी दी थी, जिसको पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया गया।

मुख्यमंत्री चौहान ने मामले में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को आड़े हाथों लेते हुए कुछ सवाल पूछे हैं। उन्होंने पूछा है कि कोरोना वाला बयान जारी करने के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री बिना मास्क लगाए प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पहुंच गए? प्रधानमंत्री के दौरे में वे क्यों नहीं थे? प्रधानमंत्री के काफिले के साथ मुख्य सचिव क्यों नहीं थे?डीजीपी की गाड़ी खाली क्यों चली?

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का दौरा हो और मुख्यमंत्री न रहे, सीएस और डीजीपी की गाड़ी भी खाली हो, क्या यह सिद्ध नहीं करता है कि इनको घटना के बारे में पता था?प्रधानमंत्री के रूट की जानकारी प्रदर्शनकारियों को किसने दी? पुलिस की मौजूदगी के बावजूद कम समय में इतने प्रदर्शनकारी कैसे इकठ्ठे हो गए? पंजाब के मुख्यमंत्री किस घटना का इंतजार कर रहे थे? जिस फ्लाईओवर पर काफिला फंसा था, वो पाकिस्तान की सीमा से कुछ ही किमी दूर था। यदि घटना होती, तो कौन जिम्मेदार होता?

कमलनाथ का पलटवार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शिवराज की पत्रकार वार्ता के बाद पूर्व सीएम एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने पलवाट किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस मामले में सिर्फ राजनीति कर रहे हैं। फिरोजपुर की घटना की जांच कराने सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय जांच समिति का गठन किया है। जब यह समिति इस पूरे मामले की जांच कर रही है तो इस समय राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप उचित नहीं है।

उन्होंने मुख्यमंत्री चौहान को नसीहत देते हुए कहा कि उक्त घटना के संबंध में यदि उनके पास कोई तथ्य व प्रमाण है तो उन्हें जांच समिति के समक्ष उपस्थित होना चाहिए। सिर्फ किसी भी मीडिया रिपोर्ट के आधार पर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप लगाना उचित नहीं है। उन्हें जांच के निष्कर्षों व जांच रिपोर्ट आने का इंतजार करना चाहिए। उनके इस उतावलेपन से ऐसा लग रहा है कि वह अपनी कुर्सी बचाने व नंबर बढ़ाने में लगे हैं। उन्हें इससे बचना चाहिए। (एजेंसी, हि.स.)

Share it
Top