Home » देश » चौकीदार चोर है नारा चलता रहेगा : कांग्रेस

'चौकीदार चोर है' नारा चलता रहेगा : कांग्रेस

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:23 April 2019 2:59 PM GMT
Share Post

वीर अर्जुन संवाददाता

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा है कि 'चौकीदार चोर है' एक राजनीतिक अभियान है जो करीब डेढ साल से चल रहा है और आगे भी चलता रहेगा लेकिन कांग्रेसी नेताओं ने यह कभी नहीं कहा कि उच्चतम न्यायालय उनके इस अभियान को सही मानता है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने मंगलवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा कि यह नारा डेढ साल से ज्यादा पुराना है और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी के अन्य नेता लगातार इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। इस संबंध में श्री गांधी ने उच्चतम न्यायालय को स्पष्टीकरण दिया कि उनका इरादा यह कहना कभी नहीं रहा कि न्यायालय ने भी कहा है कि 'चौकीदार चोर' है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं के लिए यह नारा नया नहीं है बल्कि काफी पुराना है। यह पूरी तरह से राजनीतिक अभियान है और पार्टी का यह राजनीतिक अभियान आगे भी जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि 'चौकीदार चोर है' एक नारा है और इस नारे को लेकर न्यायालय के स्पष्टीकरण मांगने पर श्री गांधी ने न्यायालय के समक्ष विवेकशील तरीके से अपनी गलती मानी और कहा कि वह किसी मुद्दे पर अपना रुख नहीं बदल रहे हैं। श्री सिंघवी ने कहा कि न्यायालय को यह भी बताया गया है कि भारतीय जनता पार्टी इसका राजनीतिकरण कर रही है। वह जानबूझकर चुनावी फायदा के लिए इस मामले का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने कहा कि न्यायालय ने श्री गांधी की बात सुनी है। हमने न्यायालय से यह मामला खत्म करने का आग्रह किया था लेकिन इस मामले को बंद नहीं किया गया है और अगले सप्ताह बुधवार को इस मामले में वह फिर न्यायालय में हाजिर होंगें। श्री गांधी ने यह भी बताया कि वह न्यायालय की प्रशंसा कर रहे थे। यह पूछने पर कि क्या न्यायालय ने कांग्रेस अध्यक्ष के जवाब से असंतुष्ट होकर ही उन्हें अगले सप्ताह पेश होने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि श्री गांधी ने बिहार में "चौकीदार चोर है' टिप्पणी की थी और उसी के आधार पर न्यायालय ने उनसे स्पष्टीकरण मांगा था।

उन्होंने कहा कि इस बारे में न्यायालय के निर्देश के अनुसार सारी सूचनाएं उपलब्ध कराई गई है। श्री गांधी ने यह भी स्पष्ट किया है इस राजनीतिक नारे का लगातार इस्तेमाल किया जाता रहेगा। उन्होंने कहा कि श्री गांधी ने न्यायालय को कहा है कि उनका इरादा उसके आदेश का गलत इस्तेमाल करना नहीं था।

Share it
Top