Top
Home » देश » मोदी फिर प्रधानमंत्री बने तो रचेंगे इतिहास

मोदी फिर प्रधानमंत्री बने तो रचेंगे इतिहास

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:25 April 2019 2:56 PM GMT
Share Post

नई दिल्ली (वार्ता)। लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की एक बार फिर नैया पार लगाकर श्री नरेंद्र मोदी यदि दोबारा प्रधानमंत्री बनते हैं तो वह पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा कर लगातार दूसरी बार इस पद पर पहुंचने वाले तीसरे नेता होंगे।

देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु और श्री मोदी के पूर्ववर्ती डॉ मनमोहन सिंह ही दो ऐसे नेता हैं जो एक कार्यकाल पूरा करने के बाद दूसरी बार प्रधानमंत्री बने। पंडित नेहरु एकमात्र ऐसे नेता हैं जो दो बार पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा करने के बाद फिर से इस पद पर पहुंचे। इस समय हो रहे सत्रहवें लोकसभा चुनाव में सफलता हासिल कर श्री मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनते हैं तो वह डॉ मनमोहन सिंह की बराबरी करेंगे। डॉ सिंह 2004 में पहली बार प्रधानमंत्री बने थे जब कांग्रेस के नेतृत्व में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार बनी थी। पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा करने के बाद उन्होंने 2009 में इस गठबंधन की सरकार का फिर से नेतृत्व किया।

सबसे अधिक समय तक प्रधानमंत्री पद पर रहे पंडित नेहरु ने पहले आम चुनाव के बाद पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा कर 1957 में हुये चुनाव के बाद फिर से प्रधानमंत्री पद संभाला। पांच वर्ष का दूसरा कार्यकाल पूरा करने के बाद वह 1962 में फिर प्रधानमंत्री बने लेकिन वह यह कार्यकाल पूरा नहीं कर पाये। उनकी मई 1964 में मृत्यु हो गयी थी।पंडित नेहरु के बाद इंदिरा गांधी सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री पद पर रहीं। वह 1966 में लाल बहादुर शास्त्राr की मृत्यु के बाद पहली बार प्रधानमंत्री बनीं। एक वर्ष बाद 1967 के चुनाव में कांग्रेस की जीत के साथ उन्होंने फिर से यह पद संभाला। कांग्रेस की अंदरुनी कलह के चलते उन्होंने पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा होने से एक वर्ष पहले ही लोकसभा भंग कर 1971 में चुनाव करा दिये। इस चुनाव में उन्हें भारी सफलता मिली और वह फिर से प्रधानमंत्री बनी। श्रीमती गांधी को 1977 के चुनाव में हार का सामना करना पड़ा। वह 1980 में चौथी बार प्रधानमंत्री बनी। इस पद पर रहते ही 1984 में उनकी हत्या कर दी गयी थी।

श्री मोदी पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा कर यदि दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने में सफल होते हैं तो ऐसा करने वाले वह पहले गैर कांग्रेसी नेता होंगे। उनकी पार्टी के नेता अटल बिहारी वाजपेयी तीन बार प्रधानमंत्री बने। वह 1996 में पहली बार प्रधानमंत्री बने लेकिन उनकी सरकार 13 दिन में ही गिर गयी। वह 1998 में दोबारा प्रधानमंत्री बने लेकिन उनकी सरकार 13 महीने ही चल सकी। श्री वाजपेयी 1999 में तीसरी बार प्रधानमंत्री बने लेकिन 2004 में हुये चुनाव में भाजपा सत्ता से बाहर हो गयी। इसके बाद डॉ मनमोहन सिंह लगातार दो कार्यकाल प्रधानमंत्री पद पर रहे। पिछले चुनाव में श्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा को भारी सफलता मिली थी और उसे लोकसभा में स्पष्ट बहुमत मिला था। वर्ष 1984 के चुनाव के बाद स्पष्ट बहुमत हासिल करने वाली वह पहली पार्टी बनी थी। भाजपा यह चुनाव भी श्री मोदी के नेतृत्व में लड़ रही है।

 कोरोनावायरस के बाद गरीबी की महामारी खत्म करने की पोप ने की अपील

कोरोनावायरस के बाद 'गरीबी की महामारी' खत्म करने की पोप ने की अपील

नई दिल्ली। पोप फ्रांसिस ने शनिवार को कोरोनावायरस महामारी का अंत होने के बाद लोगों से दुनिया में 'अधिक न्यायसंगत और समतापूर्ण समाज' के लिए और 'गरीबी...

 विश्व में 60 लाख से ऊपर पहुंचे कोरोनावायरस संक्रमण के मामले

विश्व में 60 लाख से ऊपर पहुंचे कोरोनावायरस संक्रमण के मामले

नई दिल्ली । दुनिया भर में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या रविवार को 60 लाख से ऊपर दर्ज की गई। ब्राजील में दैनिक संक्रमण में एक और रिकॉर्ड वृद्धि...

 भारत से निकाले गए राजनियकों के फैसले से बौखलाया पाकिस्तान

भारत से निकाले गए राजनियकों के फैसले से बौखलाया पाकिस्तान

नई दिल्ली । पाकिस्तान ने नई दिल्ली स्थित उसके उच्चायोग में कार्यरत दो अधिकारियों को भारतीय एजेंसियों द्वारा गिरफ्तार करने. उन्हें आवांछित व्यक्ति...

 विवादित नए नक्शे पर नेपाल ने संसद में रखा संशोधन विधेयक

विवादित नए नक्शे पर नेपाल ने संसद में रखा संशोधन विधेयक

काठमांडू । नेपाल सरकार ने रविवार को संसद के निचले सदन में नया विवादास्पद राजनीतिक मानचित्र संबंधी विधेयक संसद में पेश किया जिसमें काला पानी सहित कुछ...

 सउदी अरब में मुख्य जेद्दाह हवाई अड्डा फिर से खुला, फ्लाइट्स शुरू

सउदी अरब में मुख्य जेद्दाह हवाई अड्डा फिर से खुला, फ्लाइट्स शुरू

नई दिल्ली । सउदी अरब में किंग अब्दुल अजीज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को रविवार को फिर से खोल दिया गया। कोरोना के कारण इसे बंद कर दिया गया था। इस...

Share it
Top