Top
Home » देश » इतिहास में पहला ऐसा चुनाव जिसमें सत्ता के पक्ष में लहरः मोदी

इतिहास में पहला ऐसा चुनाव जिसमें सत्ता के पक्ष में लहरः मोदी

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:26 April 2019 6:17 PM GMT
Share Post

वाराणसी, (भाषा)। लोकसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल करने से पूर्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि इस बार देशप्रो इन्कम्बेंसी वेवःसत्ता के पक्ष में लहरः देख रहा है और देश के इतिहास का यह इस तरह का पहला चुनाव है।

उन्होंने कहा, जनता ने मन बना लिया है।इतिहास का पहला मौका है कि इस तरह का चुनाव लड़ा जा रहा है। मोदी ने कहा, हमारे देश में इतने चुनाव हुए हैं ... चुनाव होने के बाद राजनीतिक पंडितों को अपनी माथापच्ची करनी पड़ेगी कि आजादी के बाद इतने चुनावों में ... इस बार देशप्रो इन्कम्बेंसी वेवःसत्ता के पक्ष में लहरः देख रहा है। उन्होंने कहा, जनता हमें जितना प्यार दे रही है, उसके प्रति हमें हर पल आभार जताना है।कार्यकर्ता का परिश्रम और प्रजा का प्रेम ऐसा अद्भुत संगम कल था। उसी में से दिव्यता की अनुभूति होती है। उन्होंने साथ ही कहा कि राजनीति मेंप्रेम और दोस्तीखत्म हो रही है, जिसे वापस लाना है। मोदी ने यहां 1819 बूथ अध्यक्षों और 226 सेक्टर प्रमुखों को संबोधित करते हुए कहा, हमें नम्रता के साथ चुनाव लड़ना है ... आप मोदी के सिपाही हैं। टीवी और भाषण में जो हम झगड़ा करते हैं उससे प्रेरणा मत लीजिए। उन्होंने कहा, दोस्ती और प्रेम राजनीति में जो खत्म हो रहा है, उसे वापस लाना है। कोई मोदी को कितनी भी भद्दी गाली दे, आप चिन्ता मत करो। प्रधानमंत्री ने कहा, आप भी, जिसको जो गाली देनी है, वो सारी मोदी के खाते में पोस्ट कर दो। मैं गंदी से गंदी चीज से भी खाद बनाता हूं। कितना ही गंदा कूड़ा कचरा हो, मैं उसमें खाद बनाता हूं और उसी से कमल खिलाता हूं। उन्होंने कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए कहा, कल जो दृश्य मैं देख रहा था, उसमें मुझे आपके परिश्रम की, आपके पसीने की महक आ रही थी। डगर डगर मैं अनुभव करता था कि काशी के मेरे कार्यकर्ताओं ने इतनी भयंकर गर्मी में घर घर जाकर सबसे आशीर्वाद मांगा। मैं भी बूथ का कार्यकर्ता रहा हूं। मुझे भी दीवारों पर पोस्टर लगाने का सौभाग्य मिला है। उल्लेखनीय है कि कल गुरूवार को मोदी ने वाराणसी में रोडशो किया, जिसमें लाखों लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। मोदी ने कहा, मैं पूरे देश का चुनाव देख रहा हूं। देश की जनता पांच साल के अनुभव के आधार पर अनेक आशाएं, अपेक्षाएं और आकांक्षाएं लेकर हमसे जुड़ गयी है। ये बहुत बड़ा सौभाग्य है। इसने पूरे देश के राजनीतिक चरित्र को बदल दिया है क्योंकि पहले सरकारें बनती थीं। लोग सरकारें बनाते थे ... सरकार चलती है, लोगों ने ये भी देखा है। सरकार चलाना हमारी जिम्मेदारी है और जनता सरकार बनाती है। उन्होंने कहा, मेरे भीतर के कार्यकर्ता को मैंने कभी मरने नहीं दिया। प्रधानमंत्री के रूप में मैं जिम्मेदारी निभा पा रहा हूं। प्रधानमंत्री होने के नाते जो दायित्व है, मैं उसमें सजग हूं लेकिन एमपी के नाते जो जिम्मेदारी है, उसमें भी सजग हूं और भाजपा कार्यकर्ता के रूप में भी उतना ही ...। कार्यकर्ता के नाते ये आपने मुझे सिखाया है। मोदी ने कहा कि आज हमारी पार्टी बडी है। उसका कारण अखबारों ने हमें बड़ा नहीं बनाया है, टीवी के क्रीन पर हम बड़े नहीं बने हैं, हम बड़े परिवारों से नहीं आये हैं। हम छोटे कार्यकर्ता हैं, जैसे कृष्ण के पास ग्वाले हुआ करते थे, हम वो ग्वाले हैं। जैसे राम जी के पास हनुमान जी की पूरी वानर सेना थी, जैसे छत्रपति शिवाजी के पास छोटे छोटे किसान थे, मालवे थे, वैसे हम भारत मां के छोटे छोटे सिपाही हैं। मोदी ने कहा कि इस चुनाव के दो पहलू हैं। एक है काशी लोकसभा जीतना। मेरे हिसाब से ये काम कल पूरा हो गया है। एक काम अभी बाकी है ... वो है पोलिंग बूथ जीतना। एक भी पोलिंग बूथ भाजपा का झंडा झुकने नहीं देगा। मोदी कहता है कि मैं देश झुकने नहीं दूंगा।

बूथ का कार्यकर्ता कहेगा कि मैं बीजेपी का झंडा झुकने नहीं दूंगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि मई महीने की 40 डिग्री सेल्सियस गर्मी में भी दुनिया को दिखा देना है कि मतदान के पुराने सारे रिकार्ड हम तोड देंगे। मैं गुजरात में हमेशा चाहता था कि पुरूषों की तुलना में महिलाओं का मतदान पांच प्रतिशत ज्यादा होना चाहिए लेकिन मैं नहीं कर पाया। क्या हम बनारस में ये कर सकते हैं क्या ? मोदी ने कहा, हिन्दुस्तान के लोकतंत्र की ताकत , 21वीं सदी की ताकत माताएं बहनें बनने वाली हैं। हमारे पोलिंग बूथ पर 100 वोट पुरूष के तो 105 वोट महिलाओं के पडेंगे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि आपके पोलिंग बूथ में जो पहली बार वोट करने वाले हैं, उन सबका अलग लिस्ट बनाओ। उन सबको एकत्र करो, चाहे किसी भी दल का हो, चिन्ता मत करो। दल वल सब बाद में ... सबको बुलाओ ... कम से कम एक गुड का टुकडा उन सबके मुंह में रखिये।उनका मुंह मी"ा कीजिए। उनको लगना चाहिए कि उनका वोट निर्णायक होने जा रहा है। उन्हें बडा सम्मान दिया जाना चाहिए। उसके हाथ में फूल दीजिए, फूल वर्षा कीजिए। मोदी ने कहा, किस पार्टी से कौन उम्मीदवार है, ये है, वो नहीं है, फलाना नहीं है, ढिकना नहीं है, वो लंबा है, काला है, टेढा है, मेढा है। कृपा करके ऐसी चर्चा ना करें। हर उम्मीदवार सम्माननीय है। वो भी लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए मैदान में आया है। वो हमारा दुश्मन नहीं है। उन्होंने कहा, हमें हेकडी नहीं मारनी चाहिए कि हमीं सब कुछ हैं और भगवान ने हमें सब कुछ दिया है। हेकडी मारने वालों का भगवान ने क्या हाल किया। 400 से 40 पर आ गये ... हमें नम्रता के साथ चुनाव लड़ना है।

 कोरोनावायरस के बाद गरीबी की महामारी खत्म करने की पोप ने की अपील

कोरोनावायरस के बाद 'गरीबी की महामारी' खत्म करने की पोप ने की अपील

नई दिल्ली। पोप फ्रांसिस ने शनिवार को कोरोनावायरस महामारी का अंत होने के बाद लोगों से दुनिया में 'अधिक न्यायसंगत और समतापूर्ण समाज' के लिए और 'गरीबी...

 विश्व में 60 लाख से ऊपर पहुंचे कोरोनावायरस संक्रमण के मामले

विश्व में 60 लाख से ऊपर पहुंचे कोरोनावायरस संक्रमण के मामले

नई दिल्ली । दुनिया भर में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या रविवार को 60 लाख से ऊपर दर्ज की गई। ब्राजील में दैनिक संक्रमण में एक और रिकॉर्ड वृद्धि...

 भारत से निकाले गए राजनियकों के फैसले से बौखलाया पाकिस्तान

भारत से निकाले गए राजनियकों के फैसले से बौखलाया पाकिस्तान

नई दिल्ली । पाकिस्तान ने नई दिल्ली स्थित उसके उच्चायोग में कार्यरत दो अधिकारियों को भारतीय एजेंसियों द्वारा गिरफ्तार करने. उन्हें आवांछित व्यक्ति...

 विवादित नए नक्शे पर नेपाल ने संसद में रखा संशोधन विधेयक

विवादित नए नक्शे पर नेपाल ने संसद में रखा संशोधन विधेयक

काठमांडू । नेपाल सरकार ने रविवार को संसद के निचले सदन में नया विवादास्पद राजनीतिक मानचित्र संबंधी विधेयक संसद में पेश किया जिसमें काला पानी सहित कुछ...

 सउदी अरब में मुख्य जेद्दाह हवाई अड्डा फिर से खुला, फ्लाइट्स शुरू

सउदी अरब में मुख्य जेद्दाह हवाई अड्डा फिर से खुला, फ्लाइट्स शुरू

नई दिल्ली । सउदी अरब में किंग अब्दुल अजीज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को रविवार को फिर से खोल दिया गया। कोरोना के कारण इसे बंद कर दिया गया था। इस...

Share it
Top