Top
Home » देश » मप्र पर फिर संकट के बादल, बारिश और ओले गिरने की संभावना

मप्र पर फिर संकट के बादल, बारिश और ओले गिरने की संभावना

👤 manish kumar | Updated on:2 Dec 2019 5:20 AM GMT

मप्र पर फिर संकट के बादल, बारिश और ओले गिरने की संभावना

Share Post

भोपाल । मध्य प्रदेश में अभी कड़ाके की ठण्ड का दौर शुरू नहीं हुआ, लेकिन इस बीच संकट के बदल प्रदेश पर एक बार फिर मंडरा रहे हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश में एक बार फिर बारिश और ओले गिरने की संभावना जताई है। पांच दिसम्बर तक बादल छाए रहने के आसार हैं । रविवार को रतलाम में एक मिमी. बरसात हुई।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि दक्षिण-पूर्व अरब सागर और पूर्वी-पश्चिम अरब सागर में कम दबाव के क्षेत्र बने हुए हैं। एक साथ अलग-अलग स्थानों पर बने दो कम दबाव के क्षेत्र के कारण मौसम में बदलाव हो रहा है। इन सिस्टम के कारण प्रदेश में बड़े पैमाने पर नमी आने का सिलसिला जारी है। इससे प्रदेश के दक्षिण-पश्चिम इलाके में बादल छा गए हैं। साथ ही हल्की बौछारें पडऩे की संभावना बन गई है। अरब सागर में बने कम दबाव के क्षेत्र मंगलवार तक शक्तिशाली गहरे कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होने के आसार हैं। इस वजह से 5 दिसंबर तक प्रदेश में बादलों की मौजूदगी के साथ हल्की बरसात का दौर जारी रह सकता है। साथ ही कहीं-कहीं ओला वृष्टि भी हो सकती है। साहा के मुताबिक लगातार बादल बने रहने से दिन के तापमान में गिरावट दर्ज होने लगी है, लेकिन रात के तापमान में विशेष गिरावट होने की संभावना कम है। हालांकि इस दौरान बरसात होने से ठंड में इजाफा होगा। मौसम विज्ञानियों ने दक्षिण-पश्चिम मप्र के इंदौर, उज्जैन, भोपाल, होशंगाबाद में बरसात होने की संभावना जताई है। इस दौरान कहीं-कहीं ओले भी गिर सकते हैं। बरसात के कारण ठंड में इजाफा हो सकता है। हिस

Share it
Top