Top
Home » देश » उत्तर रेलवे ने की कोहरे से निपटने की तैयारी,एक घंटे से अधिक लेट ट्रेन की जानकारी मोबाइल पर

उत्तर रेलवे ने की कोहरे से निपटने की तैयारी,एक घंटे से अधिक लेट ट्रेन की जानकारी मोबाइल पर

👤 manish kumar | Updated on:7 Nov 2019 6:50 AM GMT

उत्तर रेलवे ने की कोहरे से निपटने की तैयारी,एक घंटे से अधिक लेट ट्रेन की जानकारी मोबाइल पर

Share Post

नई दिल्ली । दीपावली, भैया दूज और छठ पूजा पर होने वाली भीड़भाड़ से सफलतापूर्वक निपटने के बाद अब उत्तर रेलवे का पूरा ध्यान सर्दियों में होने वाले कोहरे से निपटने पर है । यह जानकारी देते हुए उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक टीपी सिंह ने कहा कि इस दौरान रेलयात्रियों की सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता रहेगी । वह आज यहां बड़ौदा हाउस में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते कर रहे थे ।

सिंह ने कहा कि कोहरे की वजह से ट्रेनें लेट होती है जिसके वजह से रेल यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। उन्हें इस परेशानी से बचाने के लिए अब एक घंटे से ज्यादा लेट ट्रेन की जानकारी रेलयात्री को उसके मोबाइल पर दी जाएगी ताकि वह ट्रेन के संभावित समयानुसार स्टेशन पर पहुंचे। उन्हांेने कहा कि ठंडे मौसम में लाइन के सिवुड़ने से उसमें प्रेक्चर के चांस ज्यादा होते हैं। इससे निपटने के लए रात 11 बजे से सुबह 7 बजे तक लाइन पर पेट्रोलिंग बढ़ा दी जाती है।

पेट्रोलिंग करने वाले रेलकर्मी जीपीएस ट्रेकर्स से लैस होंगे

इसका फायदा यह होगा कि इससे तुरंत पता चल जाएगा कि उन्होंने कहां से कहां तक और कितनी देर पेट्रोलिंग की। इसमें लगे इमरजैंसी बटन के द्वारा पेट्रोलिंग कर्मी सुपरवाइजर से बात कर उसे जरूरी जानकारी भी दे सकता है।

उन्होंने बताया कि धुंध के दौरान विजिविल्टी कम होने के कारण सिग्नल नहीं दिखते। इस परेशानी से निपटने के लिए फॉग सेफ्टी डिवाइस का इस्तेमाल किया जाएगा। यह डिवाइस जीपीएस से कनेक्ट होगी और सिग्नल आते ही ड्राइवर को अलर्ट कर देगी। कोहरे के दौरान अधिकतम स्पीड 75 किलोमीटर प्रतिघंटा रखी जाती है इसके बावजूद भी ड्राइवर को हिदायत दी गईं है कि वह अपने हिसाब से गति को वंट्रोल कर सकता है।

सिंह ने बताया कि कोहरे के कारण लोको पायलट समय से गंतव्य पर नहीं पहुंच पाते। ऐसे में बीच रास्ते में व्रू को चेंज करने का प्रोविजन भी रखा गया है । उन्होंने ट्रेनों की पंक्चुअल्टी का जिव्र करते हुए कहा कि नईं दिल्ली तिलक ब्रिज के बीच पांचवी-छठीं लाइन शुरू होने से पंक्चुअल्टी में सुधार हुआ है। अब यह सुधरकर 56 से 71 फीसदी हो गईं है। सिंह ने बताया कि श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर 15 स्पेशल ट्रेनें पंजाब एरिया और नांदेड साहिब, पटना साहिब, मुंबईं व कोलकाता से सुल्तानपुर लोदी और डेरा बाबा नानक के लिए चलाईं जाएंगी। सुल्तानपुर लोदी सिखों का दूसरा बड़ा धार्मिक स्थल है जबकि डेरा बाबा नानक से ही करतारपुर के लिए कारिडोर जा रहा है। उन्होंने बताया कि कटरा से आगे दो बड़े ब्रिज चेनाव और अंजी बनाए जा रहे है। यहां रास्ते में 13 सुरंगे भी है जिसमें से एक सुरंग सात किलोमीटर की है। इनका काम पूरा होने के बाद उम्मीद है कि कटरा-बनिहालबारामूला सेक्शन को लोगों के लिए 2022 के अंत तक या 2023 के शुरू के महीनों में खोल दिया जाएगा।

 रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

नई दिल्ली। रूस में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 8,572 मामले दर्ज किए गए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 387,623 हो घई है। कोरोना...

 रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

नई दिल्ली। रूस में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 8,572 मामले दर्ज किए गए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 387,623 हो घई है। कोरोना...

 WHO पर अमेरिका की नाराजगी तेज हुई, तोड़ा नाता

WHO पर अमेरिका की नाराजगी तेज हुई, तोड़ा नाता

वॉशिंगटन । विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को लेकर अमेरिका की नाराजगी बढ़ती जा रही है, उसने अब एक बड़ा ऐलान किया है। कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा त्रस्त...

 मलेशिया की सत्तारूढ़ पार्टी ने महाथिर की सदस्यता समाप्त की

मलेशिया की सत्तारूढ़ पार्टी ने महाथिर की सदस्यता समाप्त की

नई दिल्‍ली। कश्मीर मुद्दे और नागरिकता संशोधन कानून पर भारत की तीखी आलोचना को लेकर चर्चा में आए मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद को संसदीय...

 कुवैत में कोरोना से 752 नए मरीज हुए ठीक, अब तक की सबसे अधिक दैनिक वृद्धि

कुवैत में कोरोना से 752 नए मरीज हुए ठीक, अब तक की सबसे अधिक दैनिक वृद्धि

नई दिल्ली । कुवैत में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 752 मरीज ठीक हो गए हैं जो अब तक ठीक हुए लोगों की सबसे अधिक दैनिक वृद्धि है। स्वास्थ्य मंत्रालय के...

Share it
Top