Home » देश » राष्ट्रपति दौरा : मुख्यमंत्री की जगह उपमुख्यमंत्री राज्यपाल संग करेंगे कानपुर में स्वागत

राष्ट्रपति दौरा : मुख्यमंत्री की जगह उपमुख्यमंत्री राज्यपाल संग करेंगे कानपुर में स्वागत

👤 Veer Arjun | Updated on:30 Nov 2019 4:35 AM GMT

राष्ट्रपति दौरा : मुख्यमंत्री की जगह उपमुख्यमंत्री राज्यपाल संग करेंगे कानपुर में स्वागत

Share Post

कानपुर । देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दो दिवसीय दौरे के लिये आज (शनिवार) को कानपुर आ रहे हैं। उनके आगमन को लेकर जिला प्रसाशन द्वारा पूरी तैयारियां कर ली गईं हैं। उनका विशेष विमान सुबह 9:30 पर चकेरी एयरपोर्ट उतरेगा । जहां उनके स्वागत के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बजाए राज्यपाल आनंदी बेन के साथ उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की अगुवानी में कई कैबिनेट मंत्री करेंगे।

देश के राष्ट्रपति काफी समय बाद अपने गृह जनपद कनपुर के दो दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं। यहां शनिवार को वो कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे। राष्ट्रपति के आगमन को लेकर जनपद का प्रसाशनिक अमला कई दिनों से तैयारियों में लगा हुआ था। प्रसाशन द्वारा सभी जगह पूरी तैयारी के साथ ही सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन ने भी अपनी कमर कस रखी है। 26 जिलों की पुलिस राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात हैं। बताते चलें कि राष्ट्रपति का विशेष विमान 9:30 पर सुबह चकेरी एयरपोर्ट पर उतरेगा।

यहां उनका स्वागत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सहित जनपद के प्रभारी मंत्री और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के साथ कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, कमल रानी वरुण, उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार, अजीत पाल के साथ सांसद व विधायकों द्वारा किया जाएगा। यहां पर सबसे बड़ी बात देखने वाली यह होगी कि पहली बार राष्ट्रपति के स्वागत के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद नहीं होंगे। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री का अचानक कोई संभावित दौरा है, जिसके चलते वो राष्ट्रपति के स्वागत के लिए नहीं आ सकेंगे। उनकी जगह उप मुख्यमंत्री एक तरह से उपस्थिति दर्ज करायेंगे।

गौरतलब है कि जब देश के राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री जिस प्रदेश के दौरे पर में जाते हैं तो वहां के राज्यपाल और मुख्यमंत्री उनका स्वागत करते हैं लेकिन यह पहला मौका होगा जब कानपुर में दो दिवसीय दौरे आ रहे राष्ट्रपति के स्वागत में मुख्यमंत्री शामिल नहीं हो सकेंगे।

 लीबिया को सैन्य समर्थन देने के करीब तुर्की

लीबिया को सैन्य समर्थन देने के करीब तुर्की

इस्तांबुल । तुर्की अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त लीबियाई सरकार को सैन्य समर्थन देने के करीब है। इस आशय का एक करार संसद के पास मंजूरी के लिए देर...

 लीबिया को सैन्य समर्थन देने के करीब तुर्की

लीबिया को सैन्य समर्थन देने के करीब तुर्की

इस्तांबुल । तुर्की अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त लीबियाई सरकार को सैन्य समर्थन देने के करीब है। इस आशय का एक करार संसद के पास मंजूरी के लिए देर...

 लीबिया को सैन्य समर्थन देने के करीब तुर्की

लीबिया को सैन्य समर्थन देने के करीब तुर्की

इस्तांबुल । तुर्की अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त लीबियाई सरकार को सैन्य समर्थन देने के करीब है। इस आशय का एक करार संसद के पास मंजूरी के लिए देर...

 अफ़ग़ानिस्तान से चार हज़ार अमेरिकी सैनिक स्वदेश लौटेंगे

अफ़ग़ानिस्तान से चार हज़ार अमेरिकी सैनिक स्वदेश लौटेंगे

लॉस एंजेल्स । ट्रम्प प्रशासन ने क्रिसमस से पूर्व अफ़ग़ानिस्तान से चार हज़ार अमेरिकी सैनिकों को स्वदेश बुलाए जाने के संकेत दिए हैं। अभी अफ़ग़ानिस्तान...

 सूडान के पूर्व राष्ट्रपति को दो साल की सजा

सूडान के पूर्व राष्ट्रपति को दो साल की सजा

खार्तूम । सूडान की एक अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति उमर अल बशीर को धनशोधन, भ्रष्टाचार और विदेशी मुद्रा को गैरकानूनी तरीके से रखने के मामले में दो साल की...

Share it
Top