Top
Home » देश » भारतीय सेना को मिले 306 जांबाज अफसर, रक्षा मंत्री ने ली परेड की सलामी

भारतीय सेना को मिले 306 जांबाज अफसर, रक्षा मंत्री ने ली परेड की सलामी

👤 Veer Arjun | Updated on:7 Dec 2019 9:04 AM GMT

भारतीय सेना को मिले 306 जांबाज अफसर, रक्षा मंत्री ने ली परेड की सलामी

Share Post

देहरादून । भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में पासिंग आउट परेड के बाद शनिवार को भारतीय सेना को 306 जांबाज अफसर मिले। साथ ही मित्र देशों के 71 कैडेट भी अपने-अपने देशों की फौज का हिस्सा बने हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने परेड की सलामी ली। पीओपी में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी मौजूद थे। इस दौरान देशभक्ति गीतों पर इन वीरों की कदम ताल देखते ही बन रही थी। कार्यक्रम में इन भावी अफसरों के परिजन भी मौजूद रहे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कैडेटों को ओवरऑल बेस्ट परफॉर्मेंस व अन्य उत्कृष्ट सम्मान से नवाजा। विनय विलास को स्वार्ड ऑफ ऑनर व स्वर्ण पदक प्रदान किया गया, जबकि पीकेंद्र सिंह को रजत व ध्रुव मेहला को कांस्य पदक मिला। शिवराज सिंह ने सिल्वर मेडल (टीजी) हासिल किया। भूटान के कुएंजांग वांगचुक सर्वश्रेष्ठ विदेशी कैडेट चुने गए। चीफ ऑफ आर्मी स्टॉफ बैनर केरन कंपनी को मिला। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, आइएमए कमान्डेंट ले जनरल एसके झा, डिप्टी कमान्डेंट मेजर जनरल गुलाब सिंह रावत आदि सैन्य अधिकारी मौजूद थे।

उत्तर प्रदेश के कैडेट्स सबसे ज्यादा

उत्तर प्रदेश से 56, उत्तराखंड से 19, आंध्रप्रदेश से 06, अंडमान निकोबार से 01, असम से 02 बिहार से 24, चंडीगढ़ से चार, दिल्ली से 16, गुजरात से चार, हरियाणा से 39, हिमाचल प्रदेश से 18, जम्मू कश्मीर से छह, झारखंड से चार, कर्नाटक से सात, केरल से 10, मध्यप्रदेश से 10, महाराष्ट्र से 19, मणिपुर से, मिजोरम से 01, ओडिशा से 01, पंजाब से 11, राजस्थान 21, सिक्किम से 01, तमिलनाडु से 09, तेलंगना से 05, पश्चिम बंगाल से 06 कैडेट्स पास आउट होकर भारतीय सेना के अफसर बने हैं।

Share it
Top