Top
Home » देश » उन्नाव कांड: प्रियंका ने की परिजनों से मुलाकात, पूछा रोज़ ऐसी घटनाएं क्यों?

उन्नाव कांड: प्रियंका ने की परिजनों से मुलाकात, पूछा रोज़ ऐसी घटनाएं क्यों?

👤 mukesh | Updated on:7 Dec 2019 11:13 AM GMT

उन्नाव कांड: प्रियंका ने की परिजनों से मुलाकात, पूछा रोज़ ऐसी घटनाएं क्यों?

Share Post

रायबरेली। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा शनिवार को अचानक पीड़िता के गांव हिंदुपुर पहुंची और परिजनों से अकेले में मिली। उन्होंने घर के अंदर पीड़िता के पिता और भाई से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी। प्रियंका ने कहा कि दुःख की इस घड़ी में वह उनके साथ है और इसकी लड़ाई वह खुद लड़ेंगी। उन्होंने पीड़िता के पिता को हर सम्भव मदद का भरोसा दिया। प्रियंका ने प्रशासन को कठघरे में रखते हुए कहा कि रोज रोज ऐसी घटनाएं क्यों हो रही है।पीड़ित का परिवार दहशत में है और आरोपी घूम रहे है। उन्होंने पीड़ित परिवार की निजी नंबर देते हुए कहा कि वह हमेशा उनके साथ है।

गौरतलब है कि बीते गुरुवार की अलसुबह पीड़िता को जलाकर मारने की कोशिश की गई। गंभीर रूप इसे करीब 90 प्रतिशत जली अवस्था मे उसे लख़नऊ ले जाया गया,जहां से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था।शुक्रवार की देर रात करीब11 बजकर चालीस मिनट पर पीड़िता की मौत हो गई थी। उन्नाव में पीड़िता के ही गांव के रहनेवाले शिवम और उसके चचेरे भाई शुभम ने रायबरेली के लालगंज में पिछले वर्ष 12 दिसम्बर को दुष्कर्म किया था और उसका वीडियो बनाकर लगातर ब्लैकमेल कर रहे थे।पीड़िता इनकी दहशत के कारण रायबरेली के लालगंज में अपने बुआ के यहां रह रही थी।मामले में पुलिस की बड़ी लापरवाही उजागर हुई थी और कोर्ट के आदेश के बाद 5 मार्च 2019 को मुकदमा दर्ज हो पाया था।घटना के दिन पीड़िता रायबरेली में पेशी के लिए आ रही थी। प्रियंका वाड्रा के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, प्रमोद तिवारी, अन्नू टंडन सहित कई लोग रहे।

पिता और भाई ने की है दोषियों को फांसी की मांग

उन्नाव रेप कांड की पीड़िता की मौत से बेहद आहत पिता और भाई ने दोषियों को तुरंत मौत की मांग की है।पिता ने शनिवार को गांव में मीडिया से बात करते हुए दरिंदो को हैदराबाद पुलिस की तरह एनकाउंटर करने की मांग की।पीड़िता की मौत के बाद मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह से हैदराबाद कांड के दरिंदो को दौड़ाकर मार गया उसी तरह उनकी बेटी के हत्यारों को सजा मिलनी चाहिये।पीड़िता के भाई ने कहा कि न्याय पर उन्हें पूरा भरोसा है लेकिन दोषियों को मौत की सजा मिलनी चाहिये चाहे फांसी मिले या एनकाउंटर हो।उन्होंने कहा कि उनकी सिर्फ एक ही मांग है कि बहन की मौत का तुरंत इंसाफ मिले। (एजेंसी हिस.)

Share it
Top