Top
Home » देश » राम जन्म भूमि के ट्रस्ट की घोषणा का अयोध्या के संतों ने किया स्वागत

राम जन्म भूमि के ट्रस्ट की घोषणा का अयोध्या के संतों ने किया स्वागत

👤 mukesh | Updated on:5 Feb 2020 7:30 AM GMT

राम जन्म भूमि के ट्रस्ट की घोषणा का अयोध्या के संतों ने किया स्वागत

Share Post

अयोध्या । लोकसभा में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्या में श्रीरामजन्म भूमि पर मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट की घोषणा करने का अयोध्या के संतों ने स्वागत किया है। राम नगरी के संत धर्माचार्यों ने एक स्वर में राम जन्मभूमि पर सरकार के कदम को स्वागत योग्य बताते हुए ट्रस्ट का गठन जल्द करने की मांग की है।

विश्व हिन्दू परिषद के प्रान्तीय मीडिया प्रभारी शरद ने कहा कि राम मंदिर न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ट्रस्ट के अध्यक्ष हो सकते हैं। हालांकि फैसला सरकार को ही करना है। उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं रामलला का भव्य और दिव्य मंदिर सामने आएगा। शर्मा ने कहा कि राम मंदिर आंदोलन में संतों की बड़ी भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि इस ऐसे तमाम संत हैं जो ट्रस्ट में शामिल हो सकते हैं लेकिन ट्रस्ट का दायरा तय करने का काम गृह विभाग का है। राम जन्मभूमि परिसर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि सरकार को चाहिए कि जल्द से जल्द ट्रस्ट बनाकर मंदिर निर्माण शुरू किया जाए। उन्होंने कहा कि निर्माण शुरू होने पर कई रामभक्त धन देने को तैयार बैठे हैं। किसी भी प्रकार से मंदिर निर्माण में राम भक्त धन की कमी नहीं होने देंगे। लोकसभा में ट्रस्ट के घोषणा के बाद अध्यक्ष पद पर सभी की निगाहें बनी हुई है। ट्रस्ट अध्यक्ष को लेकर रेस शुरू हो चुकी है।

बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी ने कहा कि मोदी सरकार को जल्द राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण कर लेना चाहिए और पांच एकड़ जमीन मस्जिद के लिए भी देनी चाहिए।

Share it
Top