Top
Home » देश » एसएंडपी ने जीडीपी का अनुमान घटाकर 5.2 फीसदी किया

एसएंडपी ने जीडीपी का अनुमान घटाकर 5.2 फीसदी किया

👤 mukesh | Updated on:23 March 2020 11:14 AM GMT

एसएंडपी ने जीडीपी का अनुमान घटाकर 5.2 फीसदी किया

Share Post

नई दिल्‍ली। ग्‍लोबल रेटिंग एजेंसी स्‍टैण्‍डर्उ एंड पूअर्स (एसएंडपी) ने कोरोना वायरस से अर्थव्यवस्थाओं में भारी गिरावट के बीच भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का अनुमान घटा दिया है। रेटिंग एजेंसी ने वित्‍त वर्ष 2020-21 के वृद्धि के पूर्वानुमान को घटाकर 5.2 फीसदी कर दिया है। इससे पहले एसएंडपी ने 6.5 फीसदी जीडीपी रहने का अनुमान व्यक्त किया था।

रेटिंग एजेंसी ने कहा कि कोरोना वायरस 'कोविड-19' की वजह से एशिया प्रशांत क्षेत्र में करीब 620 अरब डॉलर के स्थायी नुकसान का अनुमान है। हालांकि उसने इसका देशवार ब्यौरा नहीं दिया है। एसएंडपी ने कहा कि उसने एशिया प्रशांस्त क्षेत्र में वास्तविक जीडीपी, महंगाई दर और नीतिगत ब्याज दर के अनुमानों में भी संशोधन किया है।

एजेंसी ने भारत के लिए वित वर्ष 2020- 21 के लिए जीडीपी दर के अपने अनुमान को पहले के 6.5 फीसदी से घटाकर 5.2 फीसदी कर दिया है। साथ ही उसने वित वर्ष 2021-22 की वृद्धि दर के 7 फीसदी रहने के अनुमान को भी घटाकर 6.9 प्रतिशत किया है। इसके अलावा चालू वित्त वर्ष के लिए भी रेटिंग एजेंसी ने जीडीपी वृद्धि के अनुमान को 5 फीसदी रखा है। उल्‍लेखनीय है कि रेटिंग एजेंसी ने वित्‍त वर्ष 2022-23 और 2023-24 के लिए जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान को 7 फीसदी बताया है। (एजेंसी हिस.)

Share it
Top