Top
Home » देश » सोनिया ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र, निर्माण क्षेत्र के कर्मियों को राहत पहुंचाने की मांग

सोनिया ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र, निर्माण क्षेत्र के कर्मियों को राहत पहुंचाने की मांग

👤 Veer Arjun | Updated on:24 March 2020 9:24 AM GMT

सोनिया ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र, निर्माण क्षेत्र के कर्मियों को राहत पहुंचाने की मांग

Share Post

नई दिल्ली । कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को प्रधानंमत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर निर्माण क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों के लिए राहत पैकेज की घोषणा करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के मद्देनजर कई राज्यों में लॉकडाउन की स्थिति है, ऐसे में गरीब और मजदूर वर्ग के समक्ष संसाधन जुटाना बड़ी समस्या बन गई है।

सोनिया गांधा ने लिखा है, 'कोरोना वायरस देशभर में चिंता का कारण बना हुआ है, जिससे लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी भी प्रभावित हो रही है। कोविड-19 के कारण सभी व्यवसायों, विशेष रूप से सूक्ष्म, लघु और मध्यम व्यवसाय भारी तनाव में हैं। इससे आर्थिक गतिविधियां व्यापक तौर पर प्रभावित हुई हैं। असंगठित क्षेत्र के लाखों प्रवासी कामगार बड़े शहरों से अपने कस्बों और गांवों की तरफ कूच कर गए हैं।'

कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि वर्तमान हालात में निर्माण क्षेत्र 4.4 करोड़ से अधिक कामगारों का भविष्य अधर में है। शहरों के बंद होने से इनकी रोजी-रोटी बुरी तर प्रभावित हुई है। ऐसे में जरूरी है कि सरकार इनके लिए जरूरी आर्थिक मदद के लिए कदम उठाए।

इस दौरान सोनिया गांधी ने एक जानकारी के मुताबिक निर्माण क्षेत्र के कर्मियों के कल्याण हेतु बने राज्य बोर्डों द्वारा संग्रह की गई राशि के आंकड़े को भी प्रधानमंत्री से साझा किया है। उन्होंने बताया कि राज्य बोर्डों ने उपकर के जरिए 31 मार्च, 2019 तक 49,688 करोड़ रुपये की राशि जुटाई थी, जिसमें से मात्र 19,380 करोड़ रुपये ही खर्च हुए हैं। ऐसे में सरकार से अनुरोध है कि वो हस्तक्षेप कर निर्माण क्षेत्र के कर्मियों को सही मजदूरी दिलाएं।

Share it
Top