Top
Home » देश » उप्र. में अब चलता-फिरता एटीएम बन गया डाकिया

उप्र. में अब चलता-फिरता एटीएम बन गया डाकिया

👤 manish kumar | Updated on:29 Jun 2020 4:23 AM GMT

उप्र. में अब चलता-फिरता एटीएम बन गया डाकिया

Share Post

लखनऊ। जहां कोई नहीं पहुंचता, वहां अब डाकिया पहुंच रहा है। अब डाकिया चलता-फिरता एटीएम बन गया है। 'इंडिया पोस्ट पेमेंटस बैंक' के माध्यम से हर किसी के लिए घर से लेकर खेतों तक सहजता से डिजिटल बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम द्वारा अन्य बैंकों में प्राप्त राशि का भी माइक्रो एटीएम द्वारा भुगतान किया जा रहा है।

लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक (डाक सेवाएं) कृष्ण कुमार यादव ने रविवार को बताया कि 29 जून को महाअभियान चलाकर अधिक से अधिक लोगों के आईपीपीबी खाते खोलकर उन्हें इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से जोड़ा जायेगा। मात्र आधार व मोबाइल नम्बर के आधार पर डिजिटल बैंकिंग को बढ़ावा देने के लिए ये पेपरलेस खाते खोले जाएंगे। इस अभियान में भी प्रवासी मजदूरों का खास ध्यान रखा जायेगा, जिससे वे सरकार से प्राप्त होने वाली सहायता राशि बिना कहीं बाहर गए घर पर ही प्राप्त कर सकें। उन्होंने बताया कि लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र में अब तक 4 लाख 71 हजार से अधिक लोग इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के साथ जुड़ चुके हैं और घर बैठे इसकी सेवाओं का लाभ ले रहे हैं।

डाक निदेशक यादव ने बताया कि 27 जून को लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के अधीन सभी 6 जनपदों लखनऊ, बाराबंकी, रायबरेली, सीतापुर, अयोध्या और अम्बेडकरनगर में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की आधार इनेबल्ड पेमेंट्स सिस्टम के अंतर्गत भुगतान के लिए महाअभियान चलाया गया। इसमें एक दिन में 30 हज़ार से अधिक लोगों ने इस सेवा का लाभ लिया और 3 करोड़ 36 लाख से अधिक की राशि अपने बैंक खातों से निकाली। ग्रामीण डाक सेवकों और डाकियों ने लोगों के घर-घर, खेतों-खलिहानों में और श्रमिकों को उनके कार्यस्थल पर जाकर उन्हें उनके बैंक खाते से धनराशि निकाल कर उपलब्ध कराई।

डाक निदेशक ने बताया कि 27 जून के महाभियान में बाराबंकी मंडल ने सर्वाधिक 10,129 लोगों को एईपीएस सेवा के माध्यम से भुगतान किया। सीतापुर मंडल ने सर्वाधिक 1 करोड़ 5 लाख रुपये एईपीएस के माध्यम से वितरित किये। लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र की 6 में से 4 शाखाएं बाराबंकी, रायबरेली, सीतापुर व लखनऊ उत्तर प्रदेश में टॉप 10 में अपना स्थान बनाने में सफल रही।(हि.स.)

 पाकिस्तान में मंदिर को जमीन दी, पर मंदिर निर्माण में व्यवधान

पाकिस्तान में मंदिर को जमीन दी, पर मंदिर निर्माण में व्यवधान

नई दिल्ली। मुस्लिम समुदाय की ओर से मंदिर निर्माण का काम रोकने वाली याचिकाओं को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया है। मुस्लिम समुदाय की तरफ से...

 नेपाल : एनसीपी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक 10 जुलाई तक फिर स्थगित

नेपाल : एनसीपी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक 10 जुलाई तक फिर स्थगित

नई दिल्ली। नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक अब 10 जुलाई सुबह 11 बजे तक फिर स्थगित कर दी गई है। प्रधानमंत्री ओली के मीडिया सलाहकार...

 सीमा पर तस्करों को मारना बांग्लादेश को नागवार गुजर रहा है

सीमा पर तस्करों को मारना बांग्लादेश को नागवार गुजर रहा है

नई दिल्ली। बांग्लादेश की सरकार ने इस बात पर नाराज़गी जताई है कि आखिर भारतीय सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान उनके लोगों को गोली क्यों मार रहे हैं।...

 बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमान बने सरदर्द, अब तक 50 तस्करों का हुआ एनकाउंटर

बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमान बने सरदर्द, अब तक 50 तस्करों का हुआ एनकाउंटर

नई दिल्ली। म्यांमार से भागकर बांग्लादेश आए रोहिंग्या मुसलमान अब शेख हसीना की सरकार के लिए मुसीबत बन गए हैं। 5 जुलाई को रात को बाॅर्डर गार्ड ऑफ़...

 चीनी कम्पनियों का नया ठिकाना बन रहा है वियतनाम

चीनी कम्पनियों का नया ठिकाना बन रहा है वियतनाम

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में रियल एस्टेट उद्योग पिट रहा है, लेकिन चीन के पड़ोसी देश वियतनाम में रियल एस्टेट जबर्दस्त उछाल पर है। सबसे अधिक डिमांड...

Share it
Top