Top
Home » देश » मायावती ने की पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना कोरोना के प्रकोप तक जारी रखने की मांग

मायावती ने की पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना कोरोना के प्रकोप तक जारी रखने की मांग

👤 mukesh | Updated on:1 July 2020 8:53 AM GMT

मायावती ने की पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना कोरोना के प्रकोप तक जारी रखने की मांग

Share Post

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो व प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने केन्द्र सरकार से मांग की है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को नवम्बर तक नहीं बल्कि कोरोना महामारी के प्रकोप तक जारी रखनी चाहिए।

मायावती ने बुधवार को ट्वीट किया कि कोरोना वायरस व उस कारण लाॅकडाउन की पाबन्दी व बेरोजगारी आदि की जबर्दस्त मार से पीड़ित देशवासियों को भुखमरी की असहनीय स्थिति से बचाने के लिए 'पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना' नवम्बर तक नहीं बल्कि देश में कोरोना प्रकोप के जारी रहने तक अवश्य ही जारी रहनी चाहिए, बीएसपी की यह मांग है।

दरअसल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवम्बर तक बढ़ाने का ऐलान किया है। इस योजना के अन्तर्गत 80 करोड़ लोगों को 5 किलोग्राम गेहूं या चावल मुफ्त मिलेगा। सरकार उनको नवम्बर तक पांच किलोग्राम गेहूं या चावल और हर परिवार को एक किलोग्राम चना नवम्बर तक देगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों ने देश के अन्न भंडार को भर दिया है, हम आत्मनिर्भर भारत का संकल्प पूरा करेंगे। अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है। यानि एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड। इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोजगार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गांव छोड़कर के कहीं और जाते हैं। (एजेंसी, हि.स.)

Share it
Top