Top
Home » देश » राहुल ने पीएम केयर्स फंड पर साधा निशाना, कहा- सरकार ने आपदा में अवसर तलाशा

राहुल ने पीएम केयर्स फंड पर साधा निशाना, कहा- सरकार ने आपदा में अवसर तलाशा

👤 mukesh | Updated on:16 Sep 2020 5:49 AM GMT

राहुल ने पीएम केयर्स फंड पर साधा निशाना, कहा- सरकार ने आपदा में अवसर तलाशा

Share Post

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के दौर में भाजपा सरकार ने एक से बढ़कर एक ख्याली पुलाव पकाए। उम्मीदों और तैयारियों का झूठा खाका बुनकर लोगों को गुमराह किया गया। हम 21 दिन में कोरोना को हरा नहीं पाए, सरकार का 20 लाख करोड़ का पैकेज जरूरतमंद लोगों के लिए नाकाफी साबित हुआ। वहीं पीएम केयर्स फण्ड पर कटाक्ष करते हुए राहुल ने कहा कि इन सबके बीच यह बात सच है कि सरकार ने आपदा में अवसर तलाशा, कोरोना के लिए बना नया फंड उसी का नतीजा है।

अर्थव्यवस्था, कोरोना और सीमा विवाद को लेकर राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर सरकार को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, "कोरोनाकाल में भाजपा ने एक से एक ख्याली पुलाव पकाए। 21 दिन में कोरोना को हराएंगे। आरोग्य सेतु ऐप सुरक्षा करेगा। 20 लाख करोड़ का पैकेज। आत्मनिर्भर बनो। सीमा में कोई नहीं घुसा। स्थिति संभली हुई है।" राहुल ने ट्वीट के अंत में पीएम केयर्स फंड को भी निशाने पर लेते हुए कहा, "लेकिन एक सच भी था- आपदा में अवसर।"

इससे पहले राहुल गांधी ने लॉकडाउन के दौरान मजदूरों की मौत से जुड़ा आंकड़ा सरकार के पास नहीं होने को लेकर हमला बोला था। उन्होंने तंज कसा था कि 'मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मज़दूर मरे और कितनी नौकरियां गईं।' उन्होंने शायराना अंदाज में ट्वीट भी किया कि, ''तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पे असर ना हुआ। उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे खबर ना हुई।' (एजेंसी, हि.स.)

Share it
Top