Top
Home » देश » छत्तीसगढ़ : 45 सामान्य मैना और 3 कौवे की हुई मौत

छत्तीसगढ़ : 45 सामान्य मैना और 3 कौवे की हुई मौत

👤 Veer Arjun | Updated on:19 Jan 2021 7:26 AM GMT

छत्तीसगढ़ : 45 सामान्य मैना और 3 कौवे की हुई मौत

Share Post

बीजापुर । जिला मुख्यालय से 15 किमी दूर नैमेड़ में 45 सामान्य मैना के अलावा आवापल्ली में एक और भैरमगढ़ में दो कौवों की मौत हो गई है। कलेक्टर ने जिले में दूसरे जिलों और प्रांतों से अण्डे और मुर्गियों के लाने के लिए प्रतिबंध लगाने सभी एसडीएम को आदेश जारी कर दिया है। अब तक जिले में कहीं से भी पालतू पक्षियों की असामान्य मौत की शिकायत नहीं मिली है। जिले में दाखिल हुई एक पिकअप में रखे गये मुर्गियों के भी सेंपल लिए गए हैं। इसके अलावा भोपालपटनम एवं बीजापुर में मुर्गियों को बेचने के स्थान पर भी नमूने लिए गए हैं, जिसे जांच के लिए रायपुर भेजा जाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नैमेड़ में सीआरपीएफ की 222 बटालियन के मुख्यालय के समीप 45 सामान्य मैना (एक्रिडोथेरिसट्रिस्टिस) की मौत हुई है। इसके अलावा भैरमगढ़ में दो और आवापल्ली में एक कौवे की मौत रेकॉर्ड की गई। पांच सामान्य मैना स्थानीय बोली में रामी चिड़िया के नमूने को मंगलवार दोपहर तक भेजे जाने की तैयारी की जा रही है, इन्हें सड़क मार्ग से हैदराबाद भेजा जाएगा। वहां से इन्हें इंडिगो फ्लाइट से पुणे जांच के लिए भेजा जाएगा। तिमेड़ के रैपिड रिस्पॉस टीम के मुताबिक बाकि मृत पक्षियों को गहरे गड्ढे में नमक, सोडियम पराक्सॉइड एवं चूने के साथ दफना दिया गया है। सभी इलाकों को उचित रूप से सेनेटाइज भी कर दिया गया है।

कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने जिला पंचायत सीईओ, डीएफओ , पशु चिकित्सा विभाग के उप संचालक, तीनों एसडीएम एवं जनपद के सीईओ को सतर्कता बरतने और निगरानी के लिए कहा है। कलेक्टर के निर्देशपर रैपिड रिस्पांस टीम बनाई गई है। पशु चिकित्सा विभाग के उप संचालक डॉ. एपी दोहरे की अगुवाई में रैपिड रिस्पांस टीम ने तिमेड़ में नाकों पर तैनात कर्मियों को बाहर से आने वाले वाहनों की जांच करने और पोल्ट्री उत्पाद को प्रवेश नहीं देने की हिदायत दी है। बीजापुर एसपी कमलोचन कश्यप ने भी थानों को अलर्ट कर दिया है।

Share it
Top