Home » NCR » लाखों श्रद्धालुओं ने किया श्री सिद्धपीठ शनि मंदिर में तेलाभिषेक

लाखों श्रद्धालुओं ने किया श्री सिद्धपीठ शनि मंदिर में तेलाभिषेक

👤 Veer Arjun Desk 3 | Updated on:2018-03-18 19:46:55.0
Share Post

संगीता चौधरी
नॉएडा ःनोएडा। शनिवार को सेक्टर 14 ए स्थित श्री सिद्ध पीठ शनि मंदिर में शनि अमावस्या का पर्व धूमधाम से मनाया गया। 14 साल बाद बने इस शुभ योग के दौरान लाखों श्रृद्धालुओं ने भगवान शनि का तेलाभिषेक किया और सुंदरकांड व भंजन संध्या का आनंद लिया। मंदिर में आर ओ प्लांट का उद्घाटन भी किया गया।शनि सेवा समिति के अध्यक्ष मान सिंह चौहान ने जानकारी देते हुये बताया कि शनिवार को शनि अमावस्या का पर्व मनाया गया। सुबह 3 बजे मंदिर के कपाट खुले और श्री शनि श्रृंगार किया गया । श्रद्धालुओं के लिये 4 बजे मंदिर खोल दिया गया। 8 बजे शनि शन्ति यज्ञ व 9 बजे प्रसाद वितरण किया गया। विधायक पंकज सिंह के कर कमलों द्वारा मंदिर में मै टाटा प्रोजेक्टस लिमिटेड नोएडा द्वारा आर ओ प्लांट का उद्घाटन किया गया। इस दौरान पूर्व मंत्री नवाब सिंह नागर, पूर्व विधायक विमला बाथम, माहनगर अध्यक्ष राकेश शर्मा, टाटा प्रोजेक्टस के एच ओ डी देशराज पाठक, कुनाल शर्मा मौजूद रहे। इसके बाद सुंदर कांड व भजंन संध्या की प्रस्तुति श्री रस महाराज जी ग्रूप द्वारा दी गई । मंदिर में आये श्रृद्धालुओं ने आनंद लिया। मोहन शर्मा ने जानकारी देते हुये बताया कि मंदिर की व्यवस्था व देखरेख के लिये डीपीएमआई कॉलेज के छात्र व छात्राओं ने सहयोग दिया। कॉलेज के छात्रों ने यहां निशुल्क स्वास्थय जांच शिविर भी लगाया।मान सिंह चौहान ने शनिअमावस्या का महत्तव बताते हुये कहा कि शनिवार को शनि अमावस्या होने के चलते इसका विशेष महत्व बन गया है। 14 साल बाद शनिश्चरी अमावस्या पर शुभ योग बना है। इससे पूर्व 20 मार्च 2004 में चौत्र मास में शनैश्चरी अमावस्या आई थी।शनि अमावस्या के ये शुभ योग 2018 के बाद 2025 में बनेगा। इस शुभ योग ने शनिदेव को प्रसन्न करना बहुत आसान बना दिया। शनि देव गुरू की राशि धनु में एवं पा के नक्षत्र पूर्वाषाढ़ा में संयोग बना रहे हैं इसलिए शनिदेव का विशेष पूजन कर,उनका तैलाभिषेक कर ,एवं शनि महायज्ञ में शनि के विशेष मंत्रो से आहुति डाल कर ,आप सब लोग ,पित्र दोष,नवग्रह जनित दोषों ,शनि की ढैया एवं शनि की साढ़े साती से मुक्ति प्राप्त कर सकते हैं।

Share it
Top