Top
Home » पंजाब » धर्म समाज को जोडता है मजहबी लोग समाज को बांटते हैं : डा. सवराज

धर्म समाज को जोडता है मजहबी लोग समाज को बांटते हैं : डा. सवराज

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:30 Nov 2017 2:08 PM GMT
Share Post

लुधियाना-(राजकुमार ) बाबा बंदा सिंह बहादुर भवन रकबा लुध्याना में कृष्ण कुमार बावा प्रधान बाबा बंदा सिंह बहादुर अंतरराष्ट्रीय फाउंडेशन की अध्यक्षीय में आज के समय में धर्म की महत्ता विषय पर सैमीनार आयोजित किया गया जिस में मुख्य वक्पे के तौर पर प्रसिद्ध विद्वान, विश्व चिंतक, कालम नवीस और इतिहासकार डा. स्वराज सिंह उपस्थित हुए जबकि समागम में फाउंडेशन के पंजाब के जनरल सचिव मनजीत सिंह हम्बड़ां, राजीव कुमार लवली प्रधान मालवा संस्कृतिक मंच पंजाब, गुरदीप सिंह नीटू काऊंसलर, हरीदास बावा, इंद्रजीत कौर कनाडा और रजनी बावा आदि विशेष तौर पर पहुँचे और अपने विचार पेश किये। इस समय डा. स्वराज सिंह ने कहा कि आज मानवता और संसार घोर संकट में से गुजक्वर रहे हैं जिस का मुख्य कारण मानव पश्चिमी जागीरदारी के प्रयोक्पा सभ्याचार का शिकार हो कर पूरी तरह पदार्थवाद की तरफ मुड़ गया है। मानव के जीवन में दो मुख्य रास्ते पदार्थिक और रूहानी दोनों में संतुलन ही मानव को असली मानव बनाता है परंतु आज यह संतुलन बिगड़ गया है। यह असंतुलन ही आज के संकट का मुख्य कारण है। धर्म के कई पसार हैं परंतु मुख्य पक्ष नैतिकता और रुहानियत है। उन्होंने कहा कि धर्म जोड़ता है, मजहबी लोग समाज को बाँटतें हैं। बावा ने कहा कि मानवीय कदरें कीमतें ही रिश्तों को मजक्वबूत करती हैं। इस समय अलग अलग वक्पों ने कहा कि श्री गुरु नानक देव जी का उपदेश ही मौजूदा समय में मानवता को जिक्वंदगी जीने का रास्ता दिखाता है। इस समय बी.ऐस धनोआ, निर्मल सिंह, गुरमेल कौर रशीन, भुपिन्दर कौर कालिख, सुरिदर कौर हेरें, रूबी दाखा, सरबजीत कौर, अरविन्द दाखा, गुरचरन बासियां, हरपिन्दर कौर, मनजीत कौर सिद्धवां विशेष तौर पर उपस्थित थे।

Share it
Top