Home » राजस्थान » स्वच्छता को बढ़ावा देने हेतु अरटियां में संगोष्ठी का आयोजन

स्वच्छता को बढ़ावा देने हेतु अरटियां में संगोष्ठी का आयोजन

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2017-12-19 17:12:39.0
Share Post

वीर अर्जुन संवाददाता

जोधपुर(घनश्याम डी रामावत)। जीवन में सफल होने के लिए अच्छा स्वास्थ्य और अनुकूल वातावरण होना जरूरी हंै। स्वस्थ्य रहने के लिए स्वच्छता को बढ़ावा देना जरूरी हैं। स्वच्छता को बढावा देने के लिए सबसे पहले खुले में शौच जाने की प्रवृति को बदलना होगा। जिन बच्चों के घर में शौचालय नहीं हंै वे बुजुर्गों को होने वाली परेशानी, संभावित बीमारियों का हवाला देकर तथा राष्ट्रीय कार्यक्रम में भागीदार बनने के लिए अपने अभिभावकों से शौचालय बनवाने की जिद करें। बच्चों की उचित मांग को मां बाप प्रयासपूर्वक पूरा करेंगे।
भारत सरकार के क्षेत्रीय प्रचार कार्यालय जोधपुर की ओर से बालिका विद्यालय मैदान अरटियंा कलां में 21 दिसम्बर को 'साथ हैं विश्वास हैं, हो रहा विकास हंै' नामक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसी को लेकर पूर्व प्रचार अभियान अंतर्गत आयोजित संगोष्ठी में पत्र सूचना कार्यालय जोधपुर के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी राजेश मीणा ने यह जानकारी दी। मीणा के अनुसार यह विचार करने की आवश्यकता हंै कि आजादी के 70 साल बाद भी हम में से कुछ लोग खुले में शौच के लिए जाते हैं। इनमें से कुछ लोगों के पास तो बाईक, टीवी, फ्रीज एवं मोबाईल जैसे हजारों रूपये के विलासिता के सामान भी होते हैं लेकिन घर में शौचालय बनवाना इनकी प्राथमिकता नहीं हैं। इसके कारण परिवार के अन्य सदस्यों के साथ महिला एवं बुजुर्गों को लज्जित होते हुए खुले में शौच के लिए जाना पड़ता। इसलिए हम प्रयास पूर्वक इन लोगों को शौचालय बनवाने एवं उपयोग करने के लिए तैयार करें। खुले में शौच से लोगों को आजाद करके सही मायने में हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को सगाी श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।
सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की जानकारी देते हुए क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी उदयपुर आर एल मीणा ने बताया कि प्रधानमंत्री जन धन योजना में जुडऩे से आपको अनैक बैंकिंग सेवाओं का लाभ घर बैठे मिलेगा। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से आप प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना एवं अटल पेंशन योजना का लाभ ले सकते हैं। मीणा ने बताया कि डाक विभाग की ओर से 0 से 10 वर्ष तक की बालिकाओं के लिए सर्वाधिक ब्याज के साथ सुकन्या समृद्धि योजना संचालित हंै इसमें अधिक से अधिक बालिकाओं के खाते खुलवाए जाने चाहिए ताकि उनकी पढाई और अन्य भविष्य की जरूरतों को पूरा किया जा सकें। इस अवसर पर सामाजिक समरसता बढाने के लिए महिलाओं की म्यूजिकल प्रतियोगिता एवं मौखिक प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

Share it
Top