Top
Home » राजस्थान » बादलों की आवाजाही से बढ़ रही उमस, मानसून की बरसाती घटाएं अभी दूर

बादलों की आवाजाही से बढ़ रही उमस, मानसून की बरसाती घटाएं अभी दूर

👤 manish kumar | Updated on:11 July 2020 2:23 PM GMT

बादलों की आवाजाही से बढ़ रही उमस, मानसून की बरसाती घटाएं अभी दूर

Share Post

जयपुर। मानसून की अक्ष रेखा के हिमालय की तरफ उत्तर दिशा में खिसकने के कारण दक्षिणी-पश्चिमी मानसून की काली घटाएं राजस्थान से दूर हो गई है। इसके कारण अगले तीन-चार दिन तक प्रदेश में बारिश की संभावनाएं बेहद कम हैं। कहीं-कहीं छिटपुट बारिश हो सकती है।

इस बार दक्षिण पश्चिमी मानसून के समय से पहले राजस्थान में प्रवेश के कारण अच्छी बारिश की उम्मीद जगी थी, लेकिन सभी जिलों में एकबारगी बारिश के बाद मानसून कहीं अटक गयाद्ध अब प्रदेशभर में दोबारा मानसून के सक्रिय होने व झमाझम बारिश का दौर शुरू होने का बेसब्री से इंतजार हो रहा है। प्रदेश के कई जिलों में बादलों की आवाजाही हो रही है लेकिन मेघ बिन बरसे ही दूरी बना रहे हैं। मौसम विभाग की मानें तो हिमालय के तराई क्षेत्र समेत मानसून पूर्वोत्तर राज्यों में अटका हुआ है। इससे प्रदेश में अगले दो दिन मौसम का मिजाज शुष्क रहने और दिन व रात के तापमान में बढ़ोतरी होने की आशंका है। हालांकि, दो दिन बाद उत्तर पूर्वी-जिलों में मानसून सक्रिय होने और कई इलाकों में मध्यम व तेज बारिश होने का पूर्वानुमान दिया गया है।

बीते 24 घंटे में बीकानेर, पिलानी, चूरू, श्रीगंगानगर समेत कई जिलों में दिन में पारा 40 डिग्री के पार जा पहुंचा। लगातार बढ़ रही हवा में नमी के कारण उमस पसीने छुड़ा रही है। पश्चिमी हवा के असर से दिन के तापमान में भी बढ़ोतरी बनी हुई है। जयपुर में शनिवार सुबह बही पश्चिमी हवा के असर से मौसम शुष्क रहा। शहर में छितराए बादलों की आवाजाही दो दिन से हो रही है लेकिन मेघ शहरवासियों की उम्मीदों को पूरा नहीं कर रहे हैं।

प्रदेश में शुक्रवार रात माउंट आबू में 16, अलवर में 21.6, पिलानी में 25.3, डबोक में 25.4, चित्तौडग़ढ़ में 26, अजमेर में 26.3, सीकर में 26.5, चूरू में 27.4, बाड़मेर में 28.1, जोधपुर में 28.4, सवाई माधोपुर में 28.6, जयपुर में 28.8, वनस्थली में 28.8, जैसलमेर में 29.2, बीकानेर में 30.1, श्रीगंगानगर में 30.1 तथा फलोदी में 31.4 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा। हिस

Share it
Top