Top
Home » धर्म संस्कृति » चैत्र नवरात्रि आज से, रतनगढ़ और पीताम्बरा मंदिर प्रवेश पर रोक

चैत्र नवरात्रि आज से, रतनगढ़ और पीताम्बरा मंदिर प्रवेश पर रोक

👤 manish kumar | Updated on:25 March 2020 5:03 AM GMT

चैत्र नवरात्रि आज से, रतनगढ़ और पीताम्बरा मंदिर प्रवेश पर रोक

Share Post

चैत्र नवरात्र 25 मार्च से शुरू होकर 2 अप्रैल तक पूरे 9 दिन का भक्ति का यह त्‍योहार शुरू हो गया है, लेकिन वैश्विक महामारी कोरोना के चलते इस बार सभी देवी मंदिरों में प्रवेश पर प्रतिबंध रहेगा।

यह पहला मौका है जब बड़ी माता मंदिर पर वार्षिक मेले का आयोजन नहीं होगा। पूरे जिला लाकडाउन होने की बजह से मंदिरो के पट बंद है, माताएं-बहिनों भी इस बार मंदिरों पर सुबह जल चढ़ाने के लिए भी नहीं जा सकती, इस बार उन्हें अपने घर पर ही पूजा, पाठ, वृत्त करना होगा।

कोरोना बायरस के संभावित खतरे को ध्यान में रखते हुये प्रशासन द्वारा लागू की गई। धारा 144 के मद्दे नजर और मंदिर बंद कराये जाने की बजह से जिले के अंचल में लगने वाले सभी मेलों का आयोजन नहीं हो रहा है, जबकि बड़ी माता मंदिर पर नौ दिन शहर की महिलाऐं जलाभिषेक करने सुबह 4 बजे से पहुंचती है, और सायं सैकड़ों की संख्या में पुरूष महिलाऐं व बच्चें दर्शन करने के लिए पहुंचते जहां 200 साल से भी पहले का मेला लगता है जहाँ दूर-दूर से दुकानदार अपनी दुकाने लगाते है।

इस कारण नवरात्रि में यहाँ संख्या सेंकड़ो में पहुंचती है, यही हाल माँ पीताम्बरा पीठ, दतिया से पाँच किलो मीटर दूर खैरी बाली माता का है, माँ पीताम्बरा के दरवार में नौ दिन लगने वाले विशाल मेले में पूरे देश से भक्तगण, राजनैता साधना के लिए पहुंचते है, परन्तु इस बार कोरोना की बजह से सभी मंदिरो को बंद कर लिया गया है। वहीं खैरी बाली माता पर भी प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में पूरे जिले से भक्तगण पहुंचते है, परन्तु इस बार माँ मंदिरो से लोग बंचित रहेगे।

जंगल में विराजी दतिया से 70 किलो मीटर दूर जहाँ देश के कौने-कौने से लोग पहुंचते है, माँ रतनगढ़ के दरवार में वहाँ पर भी इस बार प्रशासन का पहरा रहेगा। और मंदिर परिसर तक कोई नहीं पहुंच पायेगा। प्रशासन ने माँ रतनगढ़ माता मंदिर पर श्रृद्धालुओं के जाने पर प्रतिबंद्ध लगा किया गया है, माँ रतनगढ़ मंदिर पर दर्शनों के लिए जाने वाले वाहनो को पुलिस द्वारा नगर में प्रवेश करते ही उन्हें रोक दिया गया।

इस कारण श्रृदांलुओं से भरे ट्रैक्टर, ट्राली, रतनगढ़ माता मंदिर पर जाने की बजह बापस लौट गये और उन्हें माता के दर्शन नहीं हो पाये, प्रशासन द्वारा ज्यादा भीड़भाड़ वाले मंदिरों पर श्रृद्धालुओं के दर्शनों पर रोक लगा दी है, जबकि दूर-दूर से बड़ी संख्या में लोग रतनगढ़ माता मंदिर के दर्शनों को आते है और प्रशासन भी महिनो से व्यवस्थाओं में लग जाता है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुये आगामी आदेश तक माता के दर्शनो पर प्रतिबंध लगा दिया है। मंदिरो पर भीड़ भाड़ एकत्रित न हो इसके लिए पुलिस अधीक्षक अमन सिंह राठौर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आर.डी.प्रजापति, एसडीओपी गीता भारद्धाज पुसिस फोर्स के साथ मंदिर परिसर पहुंचे।

Share it
Top