Top
Home » धर्म संस्कृति » अब मोबाइल एप से मिलेगी ओरछा के भगवान श्री रामराजा सरकार के दर्शन की सुविधा

अब मोबाइल एप से मिलेगी ओरछा के भगवान श्री रामराजा सरकार के दर्शन की सुविधा

👤 manish kumar | Updated on:11 Nov 2020 5:49 AM GMT

अब मोबाइल एप से मिलेगी ओरछा के भगवान श्री रामराजा सरकार के दर्शन की सुविधा

Share Post

निवाड़ी/टीकमगढ़। ओरछा स्थित भगवान श्री रामराजा सरकार के दर्शन के लिए देश-विदेश से श्रद्धालु आते थे, लेकिन कोरोना से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन में मंदिर पूरी तरह बंद रहा और श्रद्धालुओं को श्रीरामराजा सरकार के दर्शन नहीं हो पाए। हालांकि अनलॉक-5 के समय मंदिर को दर्शन के लिए खोल दिया गया है। फिलहाल यहां प्री-बुकिंग के आधार पर श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया जा रहा है। यहां लोगों को दर्शन करने के लिये श्रीरामराजा सरकार की वेबसाइट पर जाकर बुकिंग करवाना होती थी, लेकिन अब मंदिर में दर्शन करने के लिये श्रद्धालु ऑनलाइन बुकिंग एप के माध्यम से भी कर सकेंगे।

दरअसल, जिला प्रशासन ने एनआईसी के माध्यम से श्रीरामराजा टैंपल ओरछा धाम नाम से एप को तैयार किया है। एंड्राइड मोबाइल पर प्ले स्टोर में जाकर इस एप को आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है। एप के माध्यम से श्रद्धालु मंदिर में श्रीरामराजा सरकार के दर्शन, पोषाक, दान, बालभोग, ब्यारी की बुकिंग भी कर सकेंगे। श्रीरामराजा टैंपल ओरछा एप पर श्रद्धालु मंदिर से जुड़े अपने सुझाव भी दे सकेंगे।

एनआईसी के एडीआइओ अविनाश पाठक ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि एप में राइट साइड बने बेल आइकन पर मंदिर से जुड़ी हर जानकारी श्रद्धालुओं को आसानी से मिलेगी। उन्होंने बताया कि अभी मंदिर के समय बदलने की जानकारी लोगों को समय पर नहीं मिल पाती थी और लोग मंदिर पहुंचकर परेशान होते थे। अब मंदिर में होने वाले हर कार्यक्रम की जानकारी बेल आइकन पर श्रद्धालुओं को मिल जायेगी कि आने वाले समय में मंदिर परिसर में कौन-कौन से आयोजन होने वाले हैं।

उन्होंने बताया कि मंदिर की सारी व्यवस्थायें पूर्व में ही ऑनलाइन हो चुकी है। अब एप के माध्यम से भी मंदिर दर्शन में बुकिंग से लेकर तमाम जानकारी लोगों की आसानी से एप के माध्यम से उपलब्ध हो सकेगी। सोशल मीडिया के दौर में यह एप पर्यटकों के लिये भी काफी राहत देगा। एप पर बुकिंग करने के बाद आर्डर आईडी जनरेट होगी। जिसे श्रद्धालु मंदिर में जाकर दिखायेंगे, बुकिंग के अनुसार श्रद्धालु को सभी व्यवस्थायें उपलब्ध करवाई जायेंगी। उन्होंने कहा कि इस एप के लांच होने के बाद दूर दराज के लोगों को काफी राहत मिलेगी। एप में मंदिर से जुड़ा सारा रिकार्ड भी अपलोड रहेगा। (हि.स.)

Share it
Top