Home » रविवारीय » इस बार धूम मचा रहे हैं नास्टेलेजिक समर वियर

इस बार धूम मचा रहे हैं नास्टेलेजिक समर वियर

👤 Veer Arjun Desk | Updated on:2018-06-17 17:31:14.0

इस बार धूम मचा रहे हैं  नास्टेलेजिक समर वियर

Share Post

नीलोफर

रंग बिरंगी कमीजों, गहरे रंग की चुन्नियों और चटख रंग की पैंट्स को हमेशा 70 के दशक के नास्टेलेजिया से जोड़ा जाता रहा है। इसलिए लगता है इस बार की गर्मियों मौसम 70 के दशक में लौट गया है। क्योंकि इस साल नास्टेलेजिया खूब धूम मजा रहा है। जी, हां! आपको हैरानी हो तो जरा एक बार बाजार घूमकर आयें या सुबह-सुबह बसों और ट्रेनों में ऑफिसों के लिए भागती, दौड़ती युवा भीड़ पर या फिर कॉलेज और यूनिवर्सिटी कैंपस में जाकर देखें। आपको हैरानी होगी कि अब सिर्फ काले, नीले या सफेद रंग के ही पैंट चलन में नहीं है। लाल, पीले और हद तो यह कि बैंगनी और हरे रंग की पैंट भी खासकर लेडी पैंट खूब दिख रही हैं।

राजधानी दिल्ली में नये फैशन और इकोनॉमी वियर के लिए मशहूर हो चुकी सरोजनी नगर और लक्ष्मी नगर की मार्किट में खूब रंग बिरंगी पैंटों को बिकने के लिए दुकानों में सजी देखा जा सकता है। लेकिन अकेले पैंट ही नहीं इस बार समर वियर में और भी कई चीजें धूम मचा रही हैं जो पुराने दिनों की याद दिला रही हैं। आइये देखते हैं कि और क्या-क्या फैशन पुराने दिनों की याद दिला रहा है।

ऑफ शोल्डर ड्रेसेज

एक जमाने में कहा जाता था कि यह जीनत अमान ड्रेस है और 80 के दशक की गर्मियों में इनका खूब डंका बजता था, तब खूब ऑफ शोल्डर ड्रेसेज पहनी जाती थीं। लगता है इस बार फिर लौटकर वहीं दिन आ गये हैं क्योंकि इस बार गर्मी में ऑफ शोल्डर का ाढsज खूब दिख रहा है। ये फब भी खूब रहा है। कुछ ऐसा ही हाल फिर से फैशन में लौटे शॉट्स का है, हालांकि जिनके बारे में यह कहना ही सही है कि वे कभी आउट डेटिड नहीं होते। हिंदुस्तान में शॉट्स जब मशहूर हुए थे तो इसके पीछे यूरोप की हिप्पीज पीढ़ी की कल्चर का प्रभाव था। दिल्ली, हिमाचल, उत्तराखंड में 70 के दशक में आने वाले तमाम विदेशी हिप्पी युवाओं ने हिंदुस्तानियों को सही मायनों में शॉट्स पहनना सीखाया था।

फिर पिछली सदी के जाते-जाते यह चलन कुछ धीमा पड़ गया था। लेकिन एक बार फिर जबरदस्त ढंग से लौटा है, आज शायद ही महानगरों में कोई लड़की हो, जिसके वार्डरोब में डेनिम का शॉर्ट्स मौजूद न हो। इन गर्मियों में फ्लोरल प्रिंट वाले शॉर्ट्स खूब ट्रेंड में हैं।

टॉप, कुर्ती और टी-शर्ट्स

इन दिनों टीनएजर लड़कियों के बीच टॉप, कुर्ती और टी-शर्ट्स को फैशनेबल होने का सिंबल मान लिया गया है। इनमें बोल्ड कलर और वाइड स्ट्रिप का चलन है। लड़के भी जिस तरह से कैजुअल ड्रेसेज को प्रिफर करने लगे हैं। उसे देखकर लगता है मानो उनमें भी हिप्पीज आत्मा लौट आयी है। पुराने दिनों की तरह ही आजकल यंगस्टर्स को स्नीकर्स में भी खूब देखा जा रहा है और खासकर लड़कियों को 70 के दशक की रेखा और हेमा के ब्लैक गॉगल्स में देखना पूरी तरह से अतीत के जादू में बंध जाने जैसा है। हालांकि लड़के भी इन दिनों कलरफुल गॉगल्स को खूब प्रिफर कर रहे हैं। लेकिन वो काले से ज्यादा ब्लू या पर्पल को पसंद कर रहे हैं। शायद इसकी वजह इंडियन ािढकेट टीम के वे कूल ब्वॉय हैं, जिन्हें युवा पीढ़ी को फील्डिंग करते देखने की बजाय फील्डिंग के दौरान उनके चश्मे का जलवा देखना ज्यादा पसंद है।

ाढा@प टॉप और मैक्सी ड्रेस

मैक्सी ड्रेस गर्मियों के लिए हमेशा परफेक्ट ड्रेस समझी जाती है लेकिन प्लेन की जगह प्रिंटेड शॉर्ट मैक्सी लड़कियों को ग्लोअप भी कर रही है और ब्लोअप भी। "ाrक वैसे ही जैसे इन दिनों ाढा@प टॉप का खूब चलन है। टाइट फिटिंग वाले जींस, हाई वेस्ट वाले पैंट के साथ इनकी जुगलबंदी देखते ही बनती है। लड़कियां ऐसा करके अपने आपको पुराने दौर की परवीन बॉबी समझने लगी हैं। लिनन और कॉटन फिर से खूब पसंद किया जाने लगा है ऐसा हो भी क्यों न, गर्मियों में यह कंफर्ट जोन जो पैदा करता है। इसीलिए लिनन यंगस्टर्स की पहली पसंद बनता जा रहा है।

Share it
Top