Home » उत्तराखंड » बीएड एमपीएड पशिक्षित बेरोजगारों ने सरकार पर लगाया अनदेखी करने का आरोप

बीएड एमपीएड पशिक्षित बेरोजगारों ने सरकार पर लगाया अनदेखी करने का आरोप

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2018-07-23 16:46:34.0
Share Post

वीर अर्जुन संवाददाता

देहरादून। उच्च पाथमिक विद्यालयों में व्यायाम शिक्षक की नियुक्ति वर्षवार एवं वरिष्"ता के अनुसार किये जाने सहित अन्य मांगों को लेकर बीएड एमपीएड पशिक्षित बेरोजगार संग"न से जुड़े बेरोजगारों ने पदेश सरकार के खिलाफ पदर्शन कर धरना दिया। कहा कि लगातार उनके हितों की अनदेखी की जा रही है।

यहां संग"न से जुडे हुए पशिक्षित बेरोजगार धरना स्थल पर बारिश के बावजूद भी इकट"ा हुए और वहां पर उन्होंने अपनी मांगों के समाधान के लिए पदर्शन करते हुए धरना दिया। इस अवसर पर बेरोजगारों ने कहा कि पदेश की डबल इंजन की सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है और वह बेरोजगारों के हितों के लिए किसी भी पकार से गंभीर नहीं दिखाई दे रही है। उन्होंने सरकार को कोसते हुए कहा कि उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। उनका कहना है कि शीघ्र ही सचिवालय कूच किया जायेगा। उनका कहना है कि इसके लिए शीघ्र ही रणनीति तैयार की जायेगी।

इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि पत्येक शासकीय एवं अशासकीय इंटर कालेज में व्यायाम विषय का पवक्ता का पद सृजित किये जाने की आवश्यकता है लेकिन अभी तक इस ओर किसी भी पकार की कोई कार्ययोजना तैयार नहीं की गई है। सरकार उनके हितों के लिए गंभीर नहीं दिखाई दे रही हे। वक्ताओं का कहना है कि कक्षा छह से बारह तक शारीरिक शिक्षा विषय अनिवार्य किया जाना चाहिए लेकिन इस ओर भी सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही है।

वक्ताओं का कहना है कि 26/2013 टीसी उच्च पाथमिक विद्यालयों में व्यायाम शिक्षकों की भांति के संबंध में फाइल गतिमान है और इस फाइल पर राज्य सरकार द्वारा कोई निर्णय नहीं लिया गया है और अभी तक किसी भी पकार की कोई कार्यवाही नहीं हो पाई है। उनका कहना है कि लंबे समय से आंदोलन किया जा रहा है लेकिन किसी भी पकार की कोई सुनवाई नहीं हो पा रही है और अब आर पार का आंदोलन किया जायेगा। उनका कहना है कि शीघ्र ही सचिवालय कूच किया जायेगा।

Share it
Top