Home » उत्तर प्रदेश » विपक्ष को अपनी राजनैतिक प्रणाली विलुप्त होने की चिन्ता : डा. महेन्द्र नाथ

विपक्ष को अपनी राजनैतिक प्रणाली विलुप्त होने की चिन्ता : डा. महेन्द्र नाथ

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2018-07-03 18:19:18.0

विपक्ष को अपनी राजनैतिक प्रणाली विलुप्त होने की चिन्ता : डा. महेन्द्र नाथ

Share Post

लखनऊ, ब्यूरो। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डा महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने अजगरा व शिवपुर विधानसभाओं में राज्य सड़क निधि 967.35 लाख रूपये की कुल 19 सड़को का शिलान्यास किया इस अवसर पर डा0 पाण्डेय ने कहा कि मोदी एवं योगी अहर्निश सड़क, बिजली, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य की सुविधा जन-जन तक पहुंचाने के लिए कार्य कर रहे है, लेकिन मुद्दाविहीन विपक्ष के पास केवल एक ही एजेण्डा बचा हैं कि किसी तरीके से मोदी को रोकना हैं नहीं तो इनकी व्यावसायिक राजनैतिक प्रणाली भी विलुप्त हो जायेगी। देश की गरीब जनता को अगर विकास का सही सूत्र पता चल गया तो जातिगत राजनीति का अन्त सुनिश्चित है।

केन्द्राrय सड़क निधि से संसदीय क्षेत्र की वाराणसी अंचल की दोनों विधानसभाओ मे 205 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन पॉच सड़को के सम्बन्ध में डॉ पाण्डेय ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से निर्माण कार्य की प्रगति एवं गुणवत्ता के सन्दर्भ में समीक्षा की। इस अवसर पर डा पाण्डेय ने कहा कि राज्य की योगी सरकार बनने के बाद विकास के कार्यों मे जिस गति से कार्य हो रहा है वह दिन दूर नहीं कि जब उत्तर प्रदेश विकास के मानकों पर देश में अग्रणी राज्यों की कतार में खड़ा होगा। सड़क, बिजली, पानी, शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में जिस गति के साथ आधारभूत ांचे के निर्माण में प्रगति हो रही हैं वैसा राज्य में पूर्ववर्ती सरकारों के समय में किसी ने कल्पना भी नहीं की थी।

प्रधानमंत्री द्वारा तीन वर्ष पहले स्वतंत्रता दिवस के अवसर स्वच्छता के सम्बन्ध मे शौचालय निर्माण को चुनौती के रूप में स्वीकार किया। डॉ पाण्डेय ने कहा कि सुबह-सुबह रेलवे की यात्रा के समय पटरियों के किनारे लगने वाली कतारे जो अपने देश की एक विशिष्ट पहचान के रूप में विदेशों में स्थापित हो चुकी थी, अब विलुप्तता की श्रेणी में पहुंच गयी हैं। केवल तीन वर्षों में शौचालय निर्माण की यह क्रान्ति एक सफल योजना के रूप में स्थापित हो चुकी हैं जिसकी समीक्षा विपक्ष को करनी चाहिए लेकिन विपक्षी दल इस चिन्ता में दिन रात एक किये हैं कि देश की गरीब जनता को अगर विकास का सही सूत्र पता चल गया तो जातिगत राजनीति का अन्त सुनिश्चित है। इस अवसर पर प्रमुख रूप से क्षेत्रीय अध्यक्ष महेश चन्द्र श्रीवास्तव, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनिल राजभर, विधायक अवधेश सिंह, कौशल चैबे, एमएलसी केदार सिंह, जिला पंचायत अध्यक्षा अपराजिता सोनकर, जिलाध्यक्ष वाराणसी हंसराज विश्वकर्मा, जिलाध्यक्ष चन्दौली सर्वेश कुशवाहा उपस्थित रहे।

Share it
Top