Top
Home » उत्तर प्रदेश » उप्र में कोरोना का टूटा रिकॉर्ड, चौबीस घंटे में 6,233 नए संक्रमित

उप्र में कोरोना का टूटा रिकॉर्ड, चौबीस घंटे में 6,233 नए संक्रमित

👤 manish kumar | Updated on:30 Aug 2020 3:46 PM GMT

उप्र में कोरोना का टूटा रिकॉर्ड, चौबीस घंटे में 6,233 नए संक्रमित

Share Post

लखनऊ। प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना का रिकार्ड टूटा है और अब तक के सर्वाधिक 6,233 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में पहली बार नए मामलों की संख्या छह हजार के पार हुई है। हालां​कि राहत की बात है कि मरीजों के तेजी से ठीक होने का सिलसिला भी जारी है।

प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 54,666 हो गई है। वहीं अब तक 1,67,543 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। इसके साथ ही राज्य में अब तक 3,423 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो चुकी है।

अब तक 54.90 लाख कोरोना नमूनों की हो चुकी है जांच

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में शनिवार को कुल 1,39,454 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इसके साथ ही राज्य में अब तक कुल 54,90,354 कोरोना नमूनों की जांच हो चुकी है।

27,364 लोग होम आइसोलेशन में करा रहे इलाज

उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 27,364 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। वहीं 2,463 लोग निजी अस्पतालों, 256 मरीज होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी और शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत विभिन्न सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। वहीं अब तक 97,506 लोग होम आइसोलेशन की सविधा का लाभ ले चुके हैं, जिनमें से 70,142 को डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

अगस्त माह में 4.7 रही पॉजिटिविटी की दर

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि अगस्त में प्रदेश की पॉजिटिविटी की दर 4.7 प्रतिशत रही है। सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी वाले जनपदों में कानपुर नगर, गोरखपुर, लखनऊ, महराजगंज, देवरिया और कुशीनगर हैं। वहीं सबसे कम पॉजिटिविटी वाले जनपदों में बागपत, महोबा, हाथरस, संभल और हमीरपुर हैं।

3,361 पूल के जरिए 18,380 नमूनों की हुई जांच

उन्होंने बताया कि शनिवार को 3,361 पूल के जरिए 18,380 नमूनों की जांच की गई। इनमें 3,046 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिसमें 244 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं 315 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिसमें 28 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

मृत्यु दर घटकर 1.51 और रिकवरी दर हुई 74.25 प्रतिशत

उन्होंने बताया कि कोरोना को लेकर केस फैटेलिटी रेट (सीएफआर) यानी मामलों में मृत्यु दर की बात करें तो अब यह घटकर 1.51 प्रतिशत हो गई है। वहीं मरीजों के तेजी से ठीक होने के फलस्वरूप रिकवरी का प्रतिशत भी बढ़ रहा है और अब यह 74.25 प्रतिशत हो गया है।

प्रदेश में 62,809 कोविड हेल्प डेस्क स्थापित

प्रदेश में कुल 62,809 'कोविड हेल्प डेस्क' की स्थापना की जा चुकी है। इनके जरिए 7,01,678 लक्षणात्मक लोगों की पहचान की गई। इनमें ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर उपलब्ध हैं। इन सभी इकाइयों में सैनिटाइजर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।

Share it
Top