Home » दुनिया » सरकार ने एनआरआई से जुड़े मुद्दों को शीर्ष प्राथमिकता दी हैः अमन सिन्हा

सरकार ने एनआरआई से जुड़े मुद्दों को शीर्ष प्राथमिकता दी हैः अमन सिन्हा

👤 veer arjun desk 5 | Updated on:2018-09-09 15:00:24.0
Share Post

शिकागो, (भाषा)। भाजपा के एक वरिष्" नेता ने कहा कि मोदी सरकार प्रवासी भारतीयों (एनआरआई) से जुड़े मुद्दों को शीर्ष प्राथमिकता दे रही है जो देश क विकास में अत्यधिक योगदान दे रहे हैं।

भाजपा प्रवक्ता अमन सिन्हा ने पीटीआई-भाषा से कहा, इस सरकार के रुख में अलग बदलाव है। हमने एनआरआई और भारतीय समुदाय से जुड़े मुद्दों को शीर्ष प्राथमिकता दी है तथा हमारा मानना है कि भारतीय समुदाय में काफी ताकत है। वे हर साल 70 अरब डॉलर से अधिक की धनराशि भेजते हैं।

सिन्हा ने कहा कि दुनियाभर में तीन करोड़ से ज्यादा भारतीय समुदाय के लोग हैं। सरकार उन्हें सशक्त बनाने और यह महसूस कराने कि यह उनकी अपनी ही सरकार है जो उनकी परवाह करती है, इसके लिए सब कुछ कर रही है।

यहां विश्व हिंदू सम्मेलन में भाग ले रहे सिन्हा ने कहा, हम विदेश में बस चुके भारतीय नागरिकों से नए विधायी परिवर्तनों का लाभ उ"ाने की अपील करते हैं जिसमें भारत की लोकतांत्रिक प्रक्रिया में भाग लेने और उनके वोट देने का अधिकार शामिल है। यह भारतीय नागरिकों के लिए है ना कि उन लोगों के लिए जिन्होंने दूसरे देशों की नागरिकता ली है।

एक सवाल के जवाब में सिन्हा ने आरएसएस की तुलना मुस्लिम ब्रदरहुड से करने वाली टिप्पणी के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आलोचना की।

उन्होंने कहा, यह अचंभित और दुर्भाग्यपूर्ण है कि राहुल गांधी ने आरएसएस की तुलना मुस्लिम ब्रदरहुड से की। यह आरएसस के लिए उनकी तर्कहीन नफरत के अलावा उनकी ज्ञान और पर्याप्त पढ़ाई की कमी को दिखाता है।

उन्होंने कहा, मुख्य बात राष्ट्रवाद की मूल विचारधारा की है। मुस्लिम ब्रदरहुड राष्ट्र की अवधारणा पर यकीन नहीं करता है। वे शरिया कानून और इस्लामिक देश के युग को शुरू करना चाहते हैं। इसलिए किसी भी तरह की तुलना का कोई सवाल ही नहीं है।

सिन्हा ने कहा, राहुल गांधी अपनी ऐसी दुर्भावनापूर्ण और बेवजह के कदमों से उनमें जो भी विश्वसनीयता बची है वो भी खो रहे हैं।

Share it
Top