Home » दुनिया » भारत, पेरू के बीच मुक्त व्यापार समझौते पर वार्ता मार्च में

भारत, पेरू के बीच मुक्त व्यापार समझौते पर वार्ता मार्च में

👤 veer arjun desk 5 | Updated on:2019-02-10T23:26:05+05:30
Share Post

नई दिल्ली, (भाषा)। भारत और पेरू प्रस्तावित मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर अगले दौर की बै"क के लिए मार्च में लीमा में बै"क करेंगे। इसका उद्देश्य दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देना है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

अधिकारी ने कहा, wवाणिज्य मंत्रालय के अधिकारी चौथे दौर की वार्ता के लिए मार्च में पेरू की राजधानी लीमा जाएंगे। उनकी यात्रा 11 मार्च से शुरू होगी।w

इस प्रस्तावित समझौते को लेकर तीसरे दौर की वार्ता पिछले महीने भारत में हुई थी। व्यापार समझौते के मुख्य अध्यायों में माल के लिए बाजार पहुंच, सेवा क्षेत्र में व्यापार, पेशेवरों की आवाजाही, निवेश, विवाद निपटान, व्यापार में तकनीकी बाधाएं, व्यापार उपचार, सीमा शुल्क प्रक्रिया और व्यापार सुविधा शामिल हैं।

मुक्त व्यापार समझौते में, दो देश अपने बीच होने वाले ज्यादातार माल की आवाजाही पर शुल्क हटाने या फिर उसमें बड़ी कटौती करने की दिशा में काम करते हैं। इसके अलावा सेवा क्षेत्र में व्यापार और द्विपक्षीय निवेश को बढ़ावा देने के लिए नियमों को आसान बनाने का काम किया जाता है।

अमेरिका और यूरोप समेत अन्य पारंपरिक बाजारों में बढ़ती अनिश्चितताओं को देखते हुए भारत अफीका, दक्षिण अमेरिका और मध्य एशिया जैसे क्षेत्रों से संबंध मजबूत करने पर विचार कर रहा है।

निर्यातकों के संग"न फियो ने कहा कि पेरू में घरेलू निर्यातकों और कारोबारी इकाइयों के लिए निवेश और निर्यात के काफी अवसर हैं।

फियो के अध्यक्ष गणेश कुमार गुप्ता ने कहा, wएफटीए हमारे निर्यात को बढ़ाने में मदद करेगा। पेरू जैसे दक्षिणी अमेरिकी बाजारों में निर्यात के लिए बहुत संभावनाएं हैं। इस क्षेत्र में लॉजिस्टिक्स लागत ही एक दिक्कत है, जिसे निर्यात को बढ़ावा के लिए एटीएफ में दूर किया जाना चाहिए।w

भारत के लिए निर्यात के लिहाज से लैटिन अमेरिका और कैरेबियन (एलएटी) क्षेत्र में पेरू तीसरा सबसे उपयुक्त स्थान है। भारत और पेरू के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2016-17 में 1.77 अरब डॉलर से बढ़कर 2017-18 में 3.13 अरब डॉलर हो गया है।

Share it
Top