Top
Home » दुनिया » दुनिया की पहली सबसे कम उम्र की पीएम, पैरेंट्स समलैंगिक

दुनिया की पहली सबसे कम उम्र की पीएम, पैरेंट्स समलैंगिक

👤 Veer Arjun | Updated on:9 Dec 2019 2:24 PM GMT

दुनिया की पहली सबसे कम उम्र की पीएम, पैरेंट्स समलैंगिक

Share Post

हेलसिंकी. फिनलैंड फिनलैंड को 34 साल की नई प्रधानमंत्री मिल गई है. सोशल डेमोक्रेट पार्टी ने प्रधानमंत्री पद के लिए पूर्व परिवहन मंत्री सना मरीन को चुना है. इसी के साथ वो ना सिर्फ देश के बल्कि दुनिया के इतिहास में सबसे युवा प्रधानमंत्री बन गई हैं. वो कल यानी मंगलवार को शपथ लेंगी.

पीएम पद के लिए चुने जाने के बाद मारिन ने कहा, "मैंने अपनी उम्र या लिंग के बारे में कभी नहीं सोचा. मैं मेरे राजनीति में आने के कारणों और उन चीजों के बारे में सोचती हूं, जिनके लिए मतदाताओं ने हम पर भरोसा जताया है."

बता दें कि सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता और पूर्व प्रधानमंत्री साउली नीनिस्टो ने हालही में पीएम पद से इस्तीफा दे दिया था. दरअसल रिने एक महीने से जारी डाक हड़ताल से निपटने में नाकाम रहे थे जिसकी वजह से उन्होंने एक सहयोगी पार्टी का विश्वास खो दिया था.

सना मरीन के बारे में

मारिन का जन्‍म 16 नवंबर 1985 को फ‍िनलैंड में हुआ था. साल 2015 में वो संसद सदस्‍य के रूप में निर्वाचित हुईं थी. पहली बार वो साल 2019 में सरकार में शामिल हुईं थी और परिवहन व संचार मंत्री बनीं. खास बात तो ये है कि मारिल समान लिंग वाले पार्टनर की संतान हैं.

मरीन ने टैम्परे विश्वविद्यालय से प्रशासनिक विज्ञान में मास्टर डिग्री ली है. वो 27 की उम्र में टैम्परे की नगर परिषद की प्रमुख चुनी गई थीं. वो 2013 से 2017 तक शहर के सिटी काउंसिल की चेयरपर्सन रहीं.

मरीन शादीशुदा हैं और उनको एक बच्चा है. माना जा रहा है कि मरीन के मंत्रिमंडल में महिलाओं की संख्या बढ़ेगी. फिनलैंड के अखबारों के मुताबिक मरीन अपनी सरकार चलाने के लिए दूसरी पार्टी की महिला नेताओं का साथ भी ले सकती हैं.

Share it
Top