Top
Home » दुनिया » बगदाद में 24 घंटे में दूसरा हमला, अमेरिकी दूतावास के पास दागे गए रॉकेट, शिया विद्रोहियों पर शक

बगदाद में 24 घंटे में दूसरा हमला, अमेरिकी दूतावास के पास दागे गए रॉकेट, शिया विद्रोहियों पर शक

👤 manish kumar | Updated on:9 Jan 2020 1:34 PM GMT

बगदाद में 24 घंटे में दूसरा हमला, अमेरिकी दूतावास के पास दागे गए रॉकेट, शिया विद्रोहियों पर शक

Share Post

इराक में अमेरिकी बेस पर ईरान की बैलिस्टिक मिसाइलों के हमले के 24 घंटे के भीतर राजधानी बगदाद के सबसे सुरक्षित इलाके ग्रीन जोन में दो रॉकेट दागे गए. इस इलाके में अमेरिका समेत दुनिया के विभिन्‍न देशों के दूतावास हैं. कहा जा रहा है कि अमेरिकी दूतावास के पास हमला किया गया. इस इलाके को इराक में सबसे सुरक्षित जगह माना जाता है. फिलहाल किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. खास बात ये है कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के ईरान को चेतावनी देने के बाद ये रॉकेट हमला हुआ.

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के हमले के बाद बुधवार को राष्ट्र को संबोधित किया. अपने संबोधन में ट्रंप ने कहा है कि अमेरिकी बेस पर ईरान के हमले के बावजूद सभी सैनिक सुरक्षित हैं और कोई नुकसान नहीं हुआ है. उन्होंने यह भी दोहराया कि जब तक वह अमेरिका के राष्ट्रपति हैं, ईरान परमाणु हथियार हासिल नहीं कर पाएगा.

ट्रंप ने राष्ट्र के नाम संदेश में कहा, "कल रात के हमले में सभी नागरिक और सैनिक सुरक्षित हैं. हमारी सेना किसी भी चुनौती के लिए तैयार है. ईरान का पीछे हटना पूरी दुनिया के लिए एक अच्छा संकेत है. मैं अमेरिका के सभी सैनिकों की हिम्मत को सलाम करता हूं. ईरान आतंक का केंद्र है और दुनिया को परमाणु हमले की धमकी देता रहता है. हमने इसे खत्म करने की कोशिश की है. मेरे निर्देश पर अमेरिकी सेना ने जनकल कासिम सुलेमानी को मारा. उन पर कई तरह के अत्याचारों का आरोप था. उन्होंने कई अमेरिकियों की हत्या की और आगे भी ऐसा ही करना का इरादा था. सुलेमानी को पहले ही मार देना चाहिए था. सुलेमानी राक्षस था."

ईरान पर नए प्रतिबंध लगाने का संकेत देते हुए ट्रंप ने कहा, "ईरान पर प्रतिबंध जारी रहेंगे. नए आर्थिक प्रतिबंध भी लगाए जांएगे. जब तक ईरान शांति की राह पर नहीं आता. ईरान को अपना परमाणु कार्यक्रम छोड़ना होगा. रूस, चीन, ब्रिटेन और फ्रांस को ये सच्चाई समझनी होगी. हमें मिलकर ईरान से लड़ना होगा ताकि दुनिया को ज्यादा सुरक्षित और शांत बनाया जा सके. आज मैं नाटो को बोलने वाला हूं वो मध्य एशिया में ज्यादा काम करें."

 बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमान बने सरदर्द, अब तक 50 तस्करों का हुआ एनकाउंटर

बांग्लादेश में रोहिंग्या मुसलमान बने सरदर्द, अब तक 50 तस्करों का हुआ एनकाउंटर

नई दिल्ली। म्यांमार से भागकर बांग्लादेश आए रोहिंग्या मुसलमान अब शेख हसीना की सरकार के लिए मुसीबत बन गए हैं। 5 जुलाई को रात को बाॅर्डर गार्ड ऑफ़...

 चीनी कम्पनियों का नया ठिकाना बन रहा है वियतनाम

चीनी कम्पनियों का नया ठिकाना बन रहा है वियतनाम

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में रियल एस्टेट उद्योग पिट रहा है, लेकिन चीन के पड़ोसी देश वियतनाम में रियल एस्टेट जबर्दस्त उछाल पर है। सबसे अधिक डिमांड...

 अफ्रीकी देश इथियोपिया में भड़की हिंसा में अब तक 166 लोगों की मौत

अफ्रीकी देश इथियोपिया में भड़की हिंसा में अब तक 166 लोगों की मौत

नई दिल्ली। इथियोपिया में ओरोमिया क्षेत्र और राजधानी अदिस अबाबा में एक लोकप्रिय गायक की मौत के बाद हिंसक विरोध प्रदर्शन में कम से कम 166 लोग मारे गए है ...

 बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट हमला, एक बच्चा घायल

बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट हमला, एक बच्चा घायल

नई दिल्ली। इराक की राजधानी बगदाद स्थित अमेरिकी दूतावास पर रविवार तड़के रॉकेट हमला किया गया। अमेरिकी वायु रक्षा प्रणाली पेट्रियॉट ने इस हमले को नाकाम...

 कोरोना वायरस से प्रभावित देश जमीनी स्तर पर बरतें सजगता: डब्ल्यूएचओ

कोरोना वायरस से प्रभावित देश जमीनी स्तर पर बरतें सजगता: डब्ल्यूएचओ

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना वायरस (कोविड 19) से प्रभावित देशों से महामारी के प्रसार पर नियंत्रण लगाने और जमीनी स्तर पर...

Share it
Top