Top
Home » दुनिया » ट्रम्प ने चीन में संक्रमित और इसके द्वारा मौतों के आंकड़े पर फिर जातया संदेह

ट्रम्प ने चीन में संक्रमित और इसके द्वारा मौतों के आंकड़े पर फिर जातया संदेह

👤 manish kumar | Updated on:3 April 2020 7:34 AM GMT

ट्रम्प ने चीन में संक्रमित और इसके द्वारा मौतों के आंकड़े पर फिर जातया संदेह

Share Post

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि कोरोनावायरस के आंकड़े जो चीन ने दर्शाए हैं वे वास्तिविकता से काफी कम दिखाई पड़ते हैं. जबकि उनके राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा कि वाशिंगटन के पास यह जानने का कोई तरीका नहीं है कि बीजिंग के आंकड़े सही थे या नहीं।

ट्रम्प का बयान तब आया जब एक वरिष्ठ रिपब्लिकन सांसद ने बीजिंग के आंकड़ों पर संदेह जताया और ब्लूमबर्ग न्यूज ने कहा कि एक अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट ने निष्कर्ष निकाला था कि चीन ने कुल मामलों और इससे होने वाली मौतों को कम दर्शाया है।

कोरोनवायरस का प्रकोप चीन में 2019 के अंत में शुरू हुआ था, लेकिन बीजिंग ने अमेरिका की तुलना में कम मामलों और मौतों की रिपोर्ट की है। बीजिंग की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में कोरोना वायरस ने अपना सबसे बड़ा प्रकोप दिखाया है जिसमें जिसमें 214,000 पुष्ट मामले और 4,800 मौतें हैं।

ट्रम्प ने कहा की उन्हें अपने कोरोनोवायरस टास्क फोर्स द्वारा चीन के डेटा पर खुफिया रिपोर्ट नहीं मिली थी।

"चीन ने कोरोना वायरस से संक्रमित और उससे हुई मौतों की जो संख्या बताई है वह वास्तविकता से कम है। जो हमें पता चला और जो हमको दर्शाया गया था उसमें काफी फर्क है।"

ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने पिछले शुक्रवार को चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ फोन कॉल में कोरोनोवायरस प्रकोप से इस बात पर चर्चा की थी कि इससे कैसे निपटना है, लेकिन उससे ऐसा नहीं महसूस हुआ की "चीन में मरने वालों की संख्या इतनी कम थी"।

ट्रम्प, जिन्होंने कॉल के बाद से वायरस के प्रकोप से चीन द्वारा निपटने की आलोचना की थी, ने कहा कि चीन के साथ अमेरिका का संबंध "बहुत अच्छा" था और दोनों पक्ष इस साल की शुरुआत में एक बहु-अरब डॉलर के व्यापार सौदे को बनाए रखना चाहते थे।

उन्होंने कहा, "चीन ने जो संक्रमित और मरने वालों की संख्या बताई वह सही है या नहीं, मैं नहीं कह सकता क्योंकि मैं कोई चीन का अकाउंटेंट नहीं हूँ."

चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने गुरुवार को बीजिंग में एक दैनिक ब्रीफिंग के दौरान दोहराया कि चीन देश में कोरोना वायरस महामारी के के चलते जो नुक्सान हुआ है उसके बारे में वह खुला और पारदर्शी रहा है और साथ ही उसने चीन के खुलासे पर संदेह जताने वाले अमेरिकी अधिकारियों की तीखी आलोचना की।

उन्होंने कहा, "उन अमेरिकी राजनेताओं की ये टिप्पणियां सिर्फ बेशर्म और नैतिक रूप से प्रतिकारक हैं।" "उन्हें सार्वजनिक स्वास्थ्य के मुद्दों का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए। यह सिर्फ अनैतिक और अमानवीय है और दुनिया भर के लोगों द्वारा इसकी निंदा की जाएगी।"

 रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

नई दिल्ली। रूस में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 8,572 मामले दर्ज किए गए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 387,623 हो घई है। कोरोना...

 रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

रूस में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 387,623 हुई

नई दिल्ली। रूस में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 8,572 मामले दर्ज किए गए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 387,623 हो घई है। कोरोना...

 WHO पर अमेरिका की नाराजगी तेज हुई, तोड़ा नाता

WHO पर अमेरिका की नाराजगी तेज हुई, तोड़ा नाता

वॉशिंगटन । विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को लेकर अमेरिका की नाराजगी बढ़ती जा रही है, उसने अब एक बड़ा ऐलान किया है। कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा त्रस्त...

 मलेशिया की सत्तारूढ़ पार्टी ने महाथिर की सदस्यता समाप्त की

मलेशिया की सत्तारूढ़ पार्टी ने महाथिर की सदस्यता समाप्त की

नई दिल्‍ली। कश्मीर मुद्दे और नागरिकता संशोधन कानून पर भारत की तीखी आलोचना को लेकर चर्चा में आए मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद को संसदीय...

 कुवैत में कोरोना से 752 नए मरीज हुए ठीक, अब तक की सबसे अधिक दैनिक वृद्धि

कुवैत में कोरोना से 752 नए मरीज हुए ठीक, अब तक की सबसे अधिक दैनिक वृद्धि

नई दिल्ली । कुवैत में पिछले 24 घंटों में कोरोना से 752 मरीज ठीक हो गए हैं जो अब तक ठीक हुए लोगों की सबसे अधिक दैनिक वृद्धि है। स्वास्थ्य मंत्रालय के...

Share it
Top